Punjab: राज्य के निवासियों को बड़ी सौगात, 283 नागरिक सेवाओं के डिजिटल हस्ताक्षर सर्टिफिकेट मिलेंगे 

डिजिटल सर्टिफिकेट की वैधता संबंधी प्रशासन सुधार विभाग द्वारा नोटिफिकेशन जारी, सेवा केंद्र के पैंडिंग केस तुरंत ख़त्म करने और डिप्टी कमिशनरों को निरंतर निगरानी के भी निर्देश दिए।

Punjab civil services certificate
93 सेवाएं घर बैठे ही ऑनलाइन अप्लाई की जा सकती हैं 
मुख्य बातें
  • 283 सेवाओं की डिलीवरी डिजिटल करते हुये नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है
  • पहले लोगों को एक ही सर्टिफिकेट की दोबारा ज़रूरत पड़ने पर बार-बार चक्कर लगाने पड़ते थे
  • ईमेल या व्हाट्सएप के द्वारा घर बैठे डिजिटल हस्ताक्षर वाला सर्टिफिकेट मिल जायेगा

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री भगवंत मान (bhagwant mann) की तरफ से राज्य निवासियों को घर बैठे बिना किसी परेशानी के सुखद और पारदर्शी सेवाएं मुहैया करवाने की वचनबद्धता पर चलते हुये प्रशासन सुधार विभाग की तरफ से बड़ा फ़ैसला लेते हुये सेवा केन्द्रों के द्वारा मुहैया करवाई जाती 283 सेवाओं के सर्टिफिकेट डिजिटल हस्ताक्षरों के साथ आवेदक को घर बैठे ही वट्टसऐप या ईमेल के द्वारा सर्टिफिकेट मिल जायेगा। 

यह जानकारी प्रशासन सुधार मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने आज यहां विभाग के कामकाज की समीक्षा के लिए मीटिंग के उपरांत जारी प्रेस बयान के द्वारा दी। 283 सेवाओं की डिलीवरी डिजिटल करते हुये इस सम्बन्धी विभाग की तरफ से बाकायदा नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है।

इन सेवाओं में जाति सर्टिफिकेट, जन्म और मौत सर्टिफिकेट, रिहायशी सर्टिफिकेट, बुढापा पेंशन, विवाह सर्टिफिकेट, हथियार रिन्यू करना, जनरल जाति सर्टिफिकेट, भार मुक्त सर्टिफिकेट, पिछड़ा क्षेत्र सर्टिफिकेट आदि प्रमुख हैं जिनकी रोज़ाना की ज़िंदगी में लोगों को सबसे अधिक ज़रूरत पड़ती है। 

मीत हेयर ने आगे बताया कि इससे पहले लोगों को एक ही सर्टिफिकेट की दोबारा ज़रूरत पड़ने पर बार-बार चक्कर लगाने पड़ते थे जैसे कि किसी विद्यार्थी को दाखि़ले के लिये जन्म या जाति सर्टिफिकेट हासिल करना। हर बार सेवा केंद्र जाकर होलोग्राम के साथ हस्ताक्षर करवा के सर्टिफिकेट हासिल करना पड़ता था। 

व्हाट्सएप या ईमेल के द्वारा घर बैठे डिजिटल हस्ताक्षर वाला सर्टिफिकेट मिल जायेगा

मुख्यमंत्री भगवंत मान की तरफ से लोगों की परेशानी ख़त्म करने के लिए दिए निर्देशों के अंतर्गत अब इन 283 सेवाओं वाले सर्टिफिकेट के लिए एक बार आवेदन करने के बाद आवेदक को व्हाट्सएप या ईमेल के द्वारा घर बैठे डिजिटल हस्ताक्षर वाला सर्टिफिकेट मिल जायेगा और वह इसकी अपनी ज़रूरत अनुसार कापियां प्रिंट करवा सकता।

Himachal: कहां है 15 लाख का पापड़- PM मोदी के मुफ्त रेवड़ी वाले बयान पर भगवंत मान का पलटवार

इस सर्टिफिकेट की वैध होने के बारे प्रशासन सुधार की तरफ से बाकायदा नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया। इसके इलावा 93 सेवाएं घर बैठे ही ऑनलाइन अप्लाई की जा सकती हैं जिसके लिए सेवा केंद्र आने की भी ज़रूरत नहीं। 

डिजिटल हस्ताक्षर वाली 293 सेवाओं के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार 

प्रशासन सुधार मंत्री ने सेवा केन्द्रों में पेंडिंग मामलों की समीक्षा करते हुये ज़िला बार मूल्यांकन किया और इनको तुरंत ख़त्म करने के लिए कहा। उन्होंने साथ ही विभाग को कहा कि समूह जिलों के डिप्टी कमिशनरों को सेवा केन्द्रों की निरंतर निगरानी करने और लोगों का फीडबैक हासिल करने के भी निर्देश दिए। इसके इलावा डिजिटल हस्ताक्षर वाली 293 सेवाओं के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार किया जाये। मीटिंग में प्रशासन सुधार के प्रमुख सचिव तेजवीर सिंह और डायरैक्टर गिरिश दियालन भी मौजूद थे। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर