NCC Rally: दिल्ली से इस्लामाबाद को संदेश, 'पाक को परास्त करने में नहीं लगेंगे 10 से ज्यादा दिन

एनसीसी की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब समय बदल चुका है। युवा सोच के साथ भारत आगे बढ़ रहा है। पाकिस्तान ने क्या किया है सबको पता है। लेकिन अब उसे परास्त करने में 10 से ज्यादा दिन नहीं लगेंगे।

NCC Rally: दिल्ली से इस्लामाबाद को संदेश, 'पाक को परास्त करने में नहीं लगेंगे 10 से ज्यादा दिन
एनसीसी की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी 

मुख्य बातें

  • एनसीसी की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी बोले, अब पाकिस्तान को हरान में 10-12 दिन से ज्यादा नहीं लगेंगे
  • सीएए का विरोध करने वालों को आड़े हाथों लिया
  • 'जो लोग सीएए का विरोध कर रहे हैं उन्हें पाक सेना के विज्ञापन को जरूर देखना चाहिए'

नई दिल्ली। एनसीसी की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधा तो घरेलू मोर्चे पर विपक्षी दलों की सोच पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि पड़ोसी मुल्क ने तीन दफा हमारे खिलाफ लड़ाई थोपी लेकिन उसे मुंह की खानी पड़ी। हमारे सैन्य बलों को हराने के लिए 10-12 से ज्यादा दिन की जरूरत नहीं है। वो हम लोगों के खिलाफ छद्म युद्ध लड़ रहे हैं। जिसमें हजारों नागरिकों और जवानों की जान गई है। 

विपक्षी दलों की तरफ से अलग अलग मौकों पर भाषण दिये गए हैं। लेकिन जब कार्रवाई करने की बारी आती थी को वो इंकार कर देते थे। आज युवा सोच है, नए दिमाग के साथ देश आगे बढ़ रहा है। चाहे सर्जिकल स्ट्राइक हो या एयर स्ट्राइक हमने उन आतंकियों के घरों में घुसकर सबक सिखाए हैं। 

जो लोग सीएए के नाम पर भ्रम और डर का माहौल बना रहे हैं वो भूल जाते हैं कि पाकिस्तान में धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता रहा है। क्या हमें उन लोगों की मदद नहीं करनी चाहिए। कुछ समय पहले पाकिस्तानी सेना की तरफ से विज्ञापन जारी किया गया था जिसमें साफ तौर पर लिखा गया था कि केवल गैर मुस्लिम टॉयलेट इत्यादि साफ करने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि जब कभी भी नए विचारो या नई सोच ने सरकार के दरवाजे को खटखटाया तो हम एक कदम आगे बढ़े। आज आप दिल्ली में नेशनल वॉर मेमोरियल और नेशनल पुलिस मेमोरियल के तौर पर देख सकते हैं। उन्होंने कहा कि जब कभी भी नए विचारो या नई सोच ने सरकार के दरवाजे को खटखटाया तो हम एक कदम आगे बढ़े। आज आप दिल्ली में नेशनल वॉर मेमोरियल और नेशनल पुलिस मेमोरियल के तौर पर देख सकते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 30 वर्षों में एक भी नेक्स्ट जनरेशन एयरक्राफ्ट को इंडियन एयरफोर्स में नहीं शामिल किया गया। पुराने पड़ चुके फाइटर प्लेन दुर्घटना के न केवल शिकार हो जाते थे बल्किन पायलटों की असमय मौत हो जाती थी। पिछले 30 वर्षों से रुके पड़े कामों को हमारी सरकार ने हरी झंडी दी। आज देश के पास राफेल जैसे विमान हैं।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर