NRC को लेकर प्रशांत किशोर ने सरकार पर साधा निशाना, पूछा- कितने गैर BJP शासित राज्यों से ली सलाह

देश
Updated Nov 21, 2019 | 00:33 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Prashant Kishor reaction on NRC: ममता बनर्जी और अमित शाह के बीच वार- पलटवार के बीच जेडीयू नेता प्रशांत किशोर ने भी एनआरसी को लेकर सरकार पर निशाना साधा है।

Prashant Kishor
प्रशांत किशोर (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • प्रशांत किशोर ने एनआरसी को लेकर सरकार पर साधा निशाना
  • पूछा सवाल- कितने गैर बीजेपी राज्यों से एनआरसी के बारे में ली गई सलाह?
  • 55 प्रतिशत से ज्यादा राज्यों में गैर बीजेपी मुख्यमंत्री: प्रशांत किशोर

नई दिल्ली: देश में एनआरसी पर राजनीति लगातार जारी है। सीएम ममता बनर्जी और गृह मंत्री अमित शाह के बीच इस मुद्दे पर लगातार बहस देखने को मिल रही है। अब इसमें प्रशांत किशोर भी शामिल होते नजर आ रहे हैं। हाल ही में सरकार पर निशाना साधते हुए जेडीयू नेता और कई राजनीतिक पार्टियों के लिए चुनाव प्रचार रणनीतिकार का काम कर चुके प्रशांत किशोर ट्वीट किया है।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'भारत की 55% से अधिक आबादी वाले 15 से ज्यादा राज्यों में गैर-भाजपा मुख्यमंत्री हैं। आश्चर्य है कि उनमें से कितने राज्यों से एनआरसी को लेकर परामर्श किया जाता है? और उनके अपने-अपने राज्यों में NRC लागू होने जा रहा है !'

गौरतलब है कि एनआरसी पर बोलते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था कि इसका मतलब किसी भी धर्म से नहीं है और इसे सभी राज्यों में लागू किया जाएगा। इसके बाद ममता बनर्जी ने पलटवार करते हुए कहा था कि वह पश्चिम बंगाल में एनआरसी को लागू नहीं होने देगीं।

बता दें कि असम में एनआरसी को लेकर सूची प्रकाशित की गई है और इस अंतिम सूची में 19 लाख लोगों को लिस्ट से बाहर रखा गया है। एनआरसी का मकसद अवैध तरीके से खासतौर पर बांग्लादेश से असम में आए घुसपैठियों की पहचान करना है। एनआरसी के लागू होने के बाद अवैध घुसपैठियों को उनके देश वापस भेजा जाएगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर