Pragya Thakur controversy: कार्रवाई के बाद प्रज्ञा ठाकुर की सफाई, झूठ के बवंडर में दिन भी लगता है रात

देश
Updated Nov 28, 2019 | 13:21 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

लोकसभा में नाथूराम गोडसे वाले बयान पर प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ सरकार और बीजेपी ने कार्रवाई की है। इन सबके बीच उन्होंने ट्वीट कर सफाई दी है।

Pragya Thakur controversy: कार्रवाई के बाद प्रज्ञा ठाकुर की सफाई, झूठ के बवंडर में दिन भी लगता है रात
भोपाल से बीजेपी सांसद हैं प्रज्ञा सिंह ठाकुर 

नई दिल्ली। भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का विवादों से नाता है। बुधवार को लोकसभा में  डीएमके सांसद ए राजा, महात्मा गांधी की हत्या का जिक्र कर रहे थे कि उसी वक्त प्रज्ञा ठाकुर ने उन्हें देशभक्त करार दिया। सदन में जबरदस्त हंगामे के बाद उनके बयान को रिकॉर्डिंग से निकाल दिया गया। लेकिन अपनी सफाई में उन्होंने क्या कुछ कहा है यह जानना जरूरी है। 

प्रज्ञा ठाकुर ने ट्वीट के जरिए सफाई के साथ साथ अपनी भावना को भी व्यक्त किया। कभी-2 झूठ का बबण्डर इतना गहरा होता है कि दिन मे भी रात लगने लगती है किन्तु सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता पलभर के बबण्डर मे लोग भ्रमित न हों सूर्य का प्रकाश स्थाई है। सत्य यही है कि कल मैने ऊधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा बस।

 

प्रज्ञा बोल पर हंगामे की शुरुआत बुधवार से हो चुकी थी। लेकिन गुरुवार को लोकसभा में जैसे ही कार्यवाही शुरू हुई हंगामा एक बार फिर बढ़ गया। सराकर और बीजेपी की तरफ से डैमेज कंट्रोल में प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ कार्रवाई भी हुई। उन्हें रक्षा मामलों की समिति से हटा दिया गया। इसके साथ ही बीजेपी ने सदन की शेष दिनों की कार्यवाही में हिस्सा लेने पर रोक लगा दी। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि पार्टी इस तरह के विचारों का समर्थन नहीं करती है। महात्मा गांधी के बताए रास्तों पर बीजेपी और सरकार की विकास यात्रा जारी है। 


ये बात अलग है कि कांग्रेस के कद्दावर नेता राहुल गांधी ने कहा कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर के लिए ये नई बात नहीं है। वो इस तरह के बयान देती रही है, अब उस महिला पर बयान देकर वो अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहते हैं। इसके साथ ही एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर जो कुछ बोलती है उससे आरएसएस और बीजेपी का नजरिया साफ होता है। राहुल गांधी ने कहा कि आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्त कहा है, भारतीय संसद के इतिहास में दुखद दिन है। 

 

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर