9 बजे 9 मिनट: पीएम मोदी ने भी लाइट बंद कर जलाया दीया, लिखा ये श्लोक, अन्य नेता भी हुए शामिल

देश
लव रघुवंशी
Updated Apr 05, 2020 | 22:00 IST

PM Narendra Modi lights a lamp: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी रविवार रात को अपने आवास की लाइटें बंद कर दीपक जलाया। पूरे देश में 9 बजे 9 मिनट तक दिवाली का माहौल रहा।

modi
पीएम मोदी ने जलाया दीया 

मुख्य बातें

  • देशभर में 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट तक मनी दिवाली
  • देशवासियों ने दीये और मोमबत्ती जलाकर कोरोना के खिलाफ दिखाई एकजुटता
  • पीएम मोदी की अपील पर देश के कई शीर्ष नेताओं ने लाइट बंद कर घर में जलाए दीए

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार रात 9 बजे 9 मिनट तक देश के लोगों ने घरों की लाइट बंद कर दरवाजों और बालकनी में दीए जलाएं। कई लोगों ने मोमबत्ती तो कई ने टॉर्च और मोबाइल की लाइट जलाई। इस दौरान देश के कई शीर्ष नेताओं ने भी दीए जलाएं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद भी अपने आवास की लाइटें बंद कर दीपक जलाया। लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर 'ओम' बनाते हुए मिट्टी के दीपक जलाए। गृह मंत्री अमित शाह ने भी दीये जलाए। 

पीएम मोदी ने दीये जलाने की 4 तस्वीरें ट्विटर पर पोस्ट कीं और उनके साथ एक श्लोक भी लिखा। पीएम मोदी ने लिखा- शुभं करोति कल्याणमारोग्यं धनसंपदा । शत्रुबुद्धिविनाशाय दीपज्योतिर्नमोऽस्तुते ॥ इसका अर्थ है- हे दीपक आप शुभ करने वाले हो ,हमारा कल्याण करें , आरोग्य प्रदान करके, धन-संपदा देवें। शत्रुओं की बुद्धि का नाश करें। मैं आपकी ज्योति को नमन करते हुए, आपकी स्तुति करता हूँ। 

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने भी मोमबत्ती जलाई। इस दौरान पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने अपने आवास की सभी लाइटों को बंद किया और मिट्टी के दीये जलाए। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी मास्क पहने हुए दीया जलाया। 

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी 9 बजे 9 मिनट के पीएम मोदी के आह्वान में भाग लिया और दीये जलाए। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी लाइटों को बंद किया और दीयों से रोशनी की। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्रर सिंह रावत ने भी परिवार के साथ अपने आवास पर दीये जलाए।  

पीएम मोदी ने कहा था, 'इस कोरोना संकट से जो अंधकार और अनिश्चितता पैदा हुई है, उसे समाप्त करके हमें उजाले और निश्चितता की तरफ बढ़ना है। इस अंधकारमय कोरोना संकट को पराजित करने के लिए, हमें प्रकाश के तेज को चारो दिशाओं में फैलाना है। इसलिए, 5 अप्रैल को, हम सबको मिलकर, कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसे प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है।'  

उन्होंने कहा था कि घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। और उस समय यदि घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का एहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं, ये उजागर होगा। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर