Mann Ki Baat 55th Episode: PM मोदी ने की 55वीं 'मन की बात', मिशन चंद्रयान 2 से लेकर बाढ़ पर बोले

देश
Updated Jul 28, 2019 | 13:51 IST | सृष्टि वर्मा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 55वीं मन की बात में देशवासियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने मिशन चंद्रयान 2 से लेकर देश भर में बाढ़ से प्रभावित लोगों के बारे में भी बात की।

MANN KI BAAT 55 EPISODE
मन की बात 

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात रेडियो कार्यक्रम के जरिए देशवासियों को संबोधित किया। यह पीएम मोदी का 55 वां रेडियो कार्यक्रम है। इसका सीधा प्रसारण दूरदर्शन व आकाशवाणी रेडियो पर किया गया। हर बार की तरह इस बार भी पीएम मोदी ने लोगों से कार्यक्रम के लिए लोगों से सुझाव मांगे थे।   

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिशन चंद्रयान 2 के सफल प्रक्षेपण को लेकर भी देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि यह मिशन कई मायनों से खास है और इससे विशेष तौर पर मुझे काफी कुछ सीखने को मिला। 

बाढ़ से प्रभावित इलाकों के बारे में बोले
पीएम मोदी ने कहा कि बाढ़ के संकट में घिरे उन सभी लोगों को मैं आश्वस्त करता हूँ, कि केंद्र, राज्य सरकारों के साथ मिलकर, प्रभावित लोगों को हर प्रकार की सहायता उपलब्ध कराने का काम बहुत तेज गति से कर रहा है।

 

 

अमरनाथ यात्रा पर बोले
अमरनाथ यात्रा की सफलता के लिए, मैं खासतौर पर जम्मू कश्मीर के लोगों और उनकी मेहमान-नवाजी की भी प्रशंसा करना चाहता हूँ ,जो लोग भी यात्रा से लौटकर आते हैं, वे राज्य के लोगों की गर्मजोशी और अपनेपन की भावना के कायल हो जाते हैं। मेरी आप सभी से अपील है कि देश के उन हिस्सों में आप जरुर जाएं, जिनकी खूबसूरती, मानसून के दौरान देखते ही बनती है,देश की इस खूबसूरती को देखने और लोगों के जज्बे को समझने के लिए पर्यटन से बड़ा कोई शिक्षक नहीं हो सकता है।

जम्मू कश्मीर पर कही ये बात
जम्मू कश्मीर के लोग विकास की मुख्यधारा से जुड़ने को कितने बेताब हैं, कितने उत्साही हैं यह इस कार्यक्रम से पता चलता है, इस कार्यक्रम में, पहली बार बड़े-बड़े अधिकारी सीधे गांवो तक पहुँचे। जिन अधिकारियों को कभी गाँव वालों ने देखा तक नहीं था, वो खुद चलकर उनके दरवाजे तक पहुँचे ताकि विकास के काम में आ रही बाधाओं को समझा जा सके, समस्याओं को दूर किया जा सके।

स्वच्छता अभियान पर बोले
रंग और रेखाओं में कोई आवाज भले न होती हो, लेकिन इनसे बनी तस्वीरों से जो इन्द्रधनुष बनते हैं, उनका संदेश हजारों शब्दों से भी कहीं ज्यादा प्रभावकारी सिद्ध होता है और स्वच्छता अभियान की खूबसूरती में भी ये बात हम अनुभव करते हैं। स्वच्छता अभियान ने सौंदर्यीकरण अभियान का रुप ले लिया है और कुंभ 2019 के दौरान ये हमें देखने को मिला। मुझे पता चला कि इस काम में योगेश सैनी ने काफी महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इसके साथ ही स्वच्छ गंगा अभियान पर भी बात कही।

मिशन चंद्रयान 2 से मिली ये सीख
इस मिशन से मुझे दो बड़ी सीख मिली है वो है 'विश्वास और निर्भीकता' हमें अपनी प्रतिभा और क्षमताओं पर पूरा भरोसा होना चाहिए। पूरी तरह से भारतीय रंग में ढ़ला है, स्वदेशी है, यह दिल और जूनून दोनों से भारतीय है। इस मिशन ने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि जब बात नए क्षेत्र में कुछ नया कर गुजरने की इच्छा और कुछ नया करने का जज्बा हो तो हमारे वैज्ञानिक सर्वश्रेष्ठ हैं, विश्व-स्तरीय हैं दूसरा, महत्वपूर्ण पाठ यह है कि किसी भी व्यवधान से घबराना नहीं चाहिए।

चंद्रयान 2 के प्रक्षेपण की तस्वीरों ने देशवासियों को जोश, गौरव और प्रसन्नता से भर दिया, यह मिशन कई मायनों में विशेष है। चंद्रयान 2 चाँद के बारे में हमारी समझ को और भी स्पष्ट करेगा।

खिलाड़ी श्रृंखला जीतने या मैडल हासिल करने के बाद चैंपियन बनते हैं, लेकिन ये बच्चे, खेल प्रतियोगिता में हिस्सा लेने से पहले ही चैंपियन थे और वो भी ज़िंदगी की जंग के। 

कैंसर एक ऐसा शब्द है जिससे पूरी दुनिया डरती है, लेकिन इन सभी दस बच्चों ने, अपनी ज़िंदगी की जंग में, ना केवल कैंसर जैसी घातक बीमारी को पराजित किया है बल्कि अपने कारनामे से पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है।

हरियाणा सरकार को दी बधाई
मैं हरियाणा सरकार को विशेष रूप से बधाई देना चाहूंगा जिन्होंने किसानों के साथ संवाद करके, उन्हें परम्परागत खेती से हटकर, कम पानी वाली फसलों के लिए प्रेरित किया है।

आप सबको यह जानकार भी बहुत खुशी होगी कि उत्तर पूर्व का खूबसूरत राज्य मेघालय देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जिसने अपनी वॉटर पॉलिसी तैयार की है, मैं वहाँ की सरकार को बधाई देता हूँ। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर