PM मोदी ने की कोरोना के मरीजों की देखभाल करने वाली नर्स से फोन पर बात, यहां पढ़ें पूरी बातचीत

देश
लव रघुवंशी
Updated Mar 28, 2020 | 12:58 IST

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में हमारे डॉक्टर्स सबसे आगे हैं। उन्हीं का हौसला बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुणे के एक हॉस्टिपटल की नर्स से फोन पर बात की।

PM Modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए 21 दिनों का देशव्यापी लॉकडाउन लगाया गया है। इस दौरान सभी से घरों में रहने की अपील की गई है। लेकिन हर कोई घर में नहीं हैं, जैसे- डॉक्टर, पुलिस, मीडियाकर्मी आदि। इस मुश्किल घड़ी में डॉक्टर सबसे आगे हैं। इन्हीं डॉक्टर्स का मनोबल बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पुणे के डॉक्टर नायडू अस्पताल की नर्स छाया से फोन पर बात की। ये कोरोना के रोगियों की देखभाल कर रही हैं।

पीएम मोदी ने फोन पर सिस्टर छाया का, उनके परिवार का हाल चाल जाना और काम को लेकर बात की। शुक्रवार शाम को प्रधानमंत्री कार्यालय से छाया को फोन गया। PMO से फोन कर रहीं महिला ने छाया से कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी आपसे बात करेंगे।

यहां पढ़ें पीएम मोदी और सिस्टर छाया की पूरी बातचीत:

पीएम मोदी: हैलो

सिस्टर छाया: हैलो सर, नमस्ते सर

पीएम मोदी: नमस्ते सिस्टर छाया, कैसी हैं आप?

सिस्टर छाया: मैं ठीक हूं सर

पीएम मोदी: बताइए आप अपने परिवार को कैसे आश्वस्त कर पाईं? आप तो जी जान से सेवा में लगी हुई हैं। परिवार को चिंता होती होगी।

सिस्टर छाया: होती है सर, लेकिन काम तो करना पड़ता है। सेवा देनी है। इसलिए हो जाता है।

पीएम मोदी: जब मरीज आते हैं तो बहुत डरे होते होंगे?

सिस्टर छाया: हां बहुत डरे होते हैं। जब एडमिट करते हैं तो डरते हैं, लेकिन हम क्या करते हैं सर उनसे बात करते हैं। उन्हें समझाते हैं। कहते हैं कि आपकी रिपोर्ट अच्छी आएगी, पॉजिटिव आएगी तब भी डरने का नहीं। यहां से 7 मरीज ठीक होकर चले गए। यहां के 9 मरीज तो बहुत अच्छे हैं। डर मन में रहता है, लेकिन हम निकालते हैं। अच्छे से बात करते हैं।

पीएम मोदी: पेशंट के परिवार नाराजगी व्यक्त करते होंगे क्योंकि सबको चिंता रहती है।

सिस्टर छाया: पेशंट के परिवार को तो अंदर ही नहीं आते देते सर। क्वारंटाइन हैं। उनसे तो बात नहीं होती। मरीज और अस्तपाल के कर्मचारी ही होते हैं। हॉस्पिटल क्वारंटाइन है।

पीएम मोदी: हां मरीज के परिवार को अंदर मत आने दो।

पीएम मोदी: आप इतने दिनों से लगी हुई है। पूरा अस्पताल कोरोना वायरस के लिए समर्पित है। देशभर में स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए सिस्टर छाया का क्या संदेश है

सिस्टर छाया: उनके लिए ये है कि डरने का नहीं। काम करने का। कोरोना को भगाना है और देश को जीताना है।

पीएम मोदी: मेरी आपकी बहुत शुभकामनाएं। आप जिस हिम्मत से जुटी हुई हैं और आपकी तरह देश के लाखों स्वास्थ्य कर्मचारियी जो लोगों की सेवा कर रहे हैं, मैं आपका अभिनंदन करता हूं

सिस्टर छाया: हमारा पूरा हॉस्पिटल का पूरा स्टाफ आपको सैल्यूट करता है। आपने हमारे छोटे से हॉस्पिटल की पूछताछ की हम सब पूरा स्टाफ आपका आभारी है। 

पीएम मोदी: मेरा कर्तव्य है और हम सबको मिलकर लड़ाई जीतनी है।

सिस्टर छाया: वो तो है सर, लेकिन आपको 24 घंटे देश की सेवा कर रहे हैं। आप तो हमारे लिए देवता हैं। आपके जैसा ही प्रधानमंत्री मिलना चाहिए।

पीएम मोदी: नहीं आप लोग मुझसे ज्यादा करते हैं। बहुत-बहुत धन्यवाद आपकी भावनाओं के लिए। आप जैसी बहनें मुझे और काम करने की ताकत देती हैं। धन्यवाद

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर