'Howdy Modi' कार्यक्रम में शामिल होंगे राष्ट्रपति ट्रंप, पीएम मोदी ने इस तरह जताया आभार

देश
Updated Sep 16, 2019 | 10:42 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रपं 22 सितंबर को ह्यूस्टन में होने वाले कार्यक्रम 'Howdy Modi' में शिरकत करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके लिए उनका आभार जताया है।

modi-trump
मोदी और ट्रंप 

नई दिल्ली: 22 सितंबर को अमेरिका के ह्यूस्टन में होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे। दोनों नेता 50 हजार से ज्यादा अमेरिकी-भारतीयों को संबोधित करेंगे। राष्ट्रपति ट्रंप के शामिल होने को लेकर पीएम मोदी ने ट्वीट भी किया है। पीएम मोदी ने इस पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि ये कदम भारत और अमेरिका की दोस्ती को दर्शाता है।

पीएम मोदी ने कहा, 'डोनाल्ड ट्रंप का विशेष कदम भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच विशेष दोस्ती को दर्शाता है! खुशी है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 22 तारीख को ह्यूस्टन में सामुदायिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। कार्यक्रम में उनका स्वागत करने के लिए भारतीय मूल के समुदाय के साथ शामिल होने का इंतजार है।' 

एक और ट्वीट में उन्होंने कहा, 'राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ह्यूस्टन में हमसे जुड़ना अमेरिकी समाज और अर्थव्यवस्था में भारतीय समुदाय के योगदान के संबंध और मान्यता की ताकत पर प्रकाश डालता है।' 

यह पहला मौका होगा जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति एक ही स्थान पर इतनी बड़ी संख्या में मौजूद भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित करेंगे। पोप के बाद अमेरिका में आयोजित होने वाला किसी भी विदेशी नेता के लिए ये सबसे बड़ा कार्यक्रम है। यह पहली बार होगा कि दोनों नेता राजधानी वाशिंगटन डीसी या न्यूयॉर्क के बाहर मिलेंगे। ह्यूस्टन के NRG स्टेडियम में मेगा डायस्पोरा इवेंट के लिए पहले ही 50,000 से अधिक लोग पंजीकृत हो चुके हैं, जिसे टेक्सास इंडिया फोरम द्वारा होस्ट किया जा रहा है।



'हाउडी' शब्द का प्रयोग 'आप कैसे हैं?' के लिए किया जाता है। दक्षिण पश्चिम अमेरिका में अभिवादन के लिए इस शब्द का प्रयोग किया जाता है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टेफनी ग्रिशम ने एक बयान में कहा, 'यह (मोदी-ट्रम्प की साझा रैली होगी) अमेरिका और भारत के लोगों के बीच संबंधों को मजबूत करने, दुनिया के सबसे पुराने एवं सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच रणनीतिक साझेदारी की पुन: पुष्टि करने और उनकी ऊर्जा तथा व्यापारिक संबंधों को गहरा करने के तरीकों पर चर्चा करने का बेहतरीन मौका होगा।'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर