Kerala Elephant Death: 'गर्भवती हथिनी की हत्‍या के मामले में दोषियों के खिलाफ दायर हो आपराधिक केस'

Kerala Elephant Death: केरल के कोल्‍लम जिले में एक गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में दोषियों के खिलाफ आपराध‍िक मुकदमा दर्ज करने को लेकर ऑनलाइन पिटिशन शुरू किया गया है।

Kerala Elephant Death: 'गर्भवती हथिनी की हत्‍या के मामले में दोषियों के खिलाफ दायर हो आपराधिक केस'
Kerala Elephant Death: 'गर्भवती हथिनी की हत्‍या के मामले में दोषियों के खिलाफ दायर हो आपराधिक केस' 

मुख्य बातें

  • केरल के मल्लपुरम जिले में पिछले दिनों लोगों ने एक गर्भवती हथिनी को बारूद से भरा अनानास खिला दिया था
  • इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने रोष जताते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है
  • केरल सरकार ने कहा है कि इस मामले की जांच के लिए टीम बनाई गई है और दोषियों को बख्‍शा नहीं जाएगा

तिरुवनंतपुरम : केरल में एक गर्भवती हथिनी को बारूद से भरा अनानास खिला देने के मामले में सरकार ने जहां सख्‍त कार्रवाई का आश्‍वासन दिया है, वहीं दोषियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करने की मांग भी बढ़ती जा रही है। इसके लिए एक ऑनलाइन पिटिशन शुरू किया गया, जिसमें अब तक लगभग पांच लाख लोग साइन कर चुके हैं।

मुख्‍यमंत्री ने दिलाया कड़ी कार्रवाई का भरोसा

केरल के मुख्‍यमंत्री पिनरायी विजयन ने बुधवार को ही कहा था कि गर्भवती हाथी की हत्‍या के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वन विभाग मामले की जांच कर रहा है और दोषियों को बख्‍शा नहीं जाएगा। वहीं, राज्‍य के वन मंत्री के राजू ने भी कहा कि मामले की जांच के लिए टीम बनाई गई है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

वन अधिकारी ने दी थी घटना की जानकारी

यह अमानवीय घटना तब सामने आई थी, जब वन अधिकारी मोहन कृष्णन ने अपने फेसबुक पोस्ट में इसका जिक्र किया था। उन्‍होंने लिखा कि हथिनी खाने की तलाश में जंगल से बाहर पास के गांव में चली गई थी। लेकिन उसे वहां लोगों ने भोजन देने की बजाय पटाखों से भरा अनानास खिला दिया। उसके मुंह में जाते ही यह फट पड़ा और उसकी मौत हो गई। हथिनी गर्भवती थी और अगले कुछ महीनों में अपने बच्‍चे का जन्‍म देने वाली थी।

लोगों ने सोशल मीडिया पर जताया रोष

इस घटना के सामने आने के बाद बेजुबान हथिनी के साथ इस तरह का घृणित कृत्‍य करने वालों के खिलाफ लोगों में गुस्‍सा भड़क गया है। इसे लेकर लोगों ने जहां सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जताई है, वहीं यह मामला अंतरराष्‍ट्रीय सुर्खियों में भी है। विभिन्‍न रिपोर्ट्स में इस पर रो‍ष व हैरानी जताई गई है। बीजेपी सांसद और पशु अधिकार कार्यकर्ता मेनका गांधी ने भी इस पर बेहद नाराजगी जताई है। उन्‍होंने इस पर भी रोष जताया कि अब तक दोषियों को पकड़ा नहीं जा सका।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर