सिर्फ आरक्षण देने से कोई समुदाय प्रगति करेगा, यह सच नहीं है: नितिन गडकरी

देश
रामानुज सिंह
Updated Sep 17, 2019 | 13:36 IST

आरक्षण (reservation) एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। जब माली समुदाय ने अधिक प्रतिनिधित्व की मांग की तो मोदी सरकार के मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि सिर्फ आरक्षण देने से कोई समुदाय प्रगति करेगा।

Nitin Gadkari
Nitin Gadkari  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • माली समुदाय के कुछ नेताओं ने विधानसभा चुनाव से पहले अपने लिए टिकट और अधिक प्रतिनिधित्व की मांग की
  • गडकरी ने कहा कि जब लोग अपने कामों के आधार पर टिकट पाने में असफल होते हैं, तो वे जाति कार्ड को आगे लाते हैं
  • उन्होंने कहा कि जॉर्ज फर्नांडीस किस जाति के थे? वे किसी जाति के नहीं थे। वे एक ईसाई थे। इंदिरा गांधी अपनी जाति के कारण सत्ता में नहीं आईं। अशोक गहलोत दूसरे जाति के लोगों के समर्थन के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री बने

नागपुर (महाराष्ट्र): आरक्षण (reservation) ऐसा मुद्दा है जो लगातार चर्चा में रहा है। एक बार फिर यह सुर्खियों में आ गया है। मोदी सरकार के मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari)ने मंगलवार को कहा कि आरक्षण 'पीड़ित, दलित, सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों' को दिया जाना चाहिए, हालांकि यह सोचना कि कोई समुदाय सिर्फ आरक्षण से प्रगति करेगा, यह सच नहीं है। गडकरी ने यह बात यहां महात्मा फुले एजुकेशन सोसायटी के 60वें स्थापना दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। 

इस कार्यक्रम में माली समुदाय के कुछ नेताओं ने विधानसभा चुनाव से पहले अपने लिए टिकट और अधिक प्रतिनिधित्व की मांग की। इसके बाद गडकरी ने उनसे आरक्षण की मांग से परे देखने का आग्रह किया। गडकरी ने कहा कि जब लोग अपने कामों के आधार पर टिकट पाने में असफल होते हैं, तो वे जाति कार्ड को आगे लाते हैं।

उन्होंने कहा कि जॉर्ज फर्नांडीस किस जाति के थे? वे किसी जाति के नहीं थे। वे एक ईसाई थे। साथ ही उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी अपनी जाति के कारण सत्ता में नहीं आईं। अशोक गहलोत दूसरे जाति के लोगों के समर्थन के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री बने। 

गडकरी ने कहा कि पहले लोगों ने उनसे कहा कि महिलाओं को आरक्षण मिलना चाहिए। गडकरी ने कहा कि मैंने कहा कि हां उन्हें जरूर मिलना चाहिए। लेकिन मैंने तुरंत उनसे पूछा, क्या इंदिरा गांधी को आरक्षण मिला था? कई सालों तक उन्होंने देश पर शासन किया और लोकप्रिय हुईं। मैंने पूछा कि क्या वसुंधरा राजे और सुषमा स्वराज को आरक्षण मिला? 

गडकरी ने यह भी कहा कि आरक्षण उन लोगों को दिया जाना चाहिए जो "समाज के पीड़ित, दलित, सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं। हालांकि, यह सच नहीं है अगर कोई कहता है कि सिर्फ आरक्षण देने से समुदाय प्रगति करेगा। यह भी सच नहीं है कि जिन समुदायों को अधिक आरक्षण मिला और इसके कारण उसकी प्रगति हुई। 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर