केजरीवाल की AAP पर बरसीं निर्भया की मां, बोलीं- मेरी बेटी की मौत पर करना चाहते हैं राजनीति

2012 में हुए निर्भया गैंगरेप मामले में दोषियों की फांसी की सजा में हो रहे विलंब के लिए निर्भया की मां ने अब दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार पर निशाना साधा है।

Nirbhaya's parents lashes out on Delhi AAP Government
केजरीवाल की AAP पर बरसीं निर्भया की मां, कही ये बात 

मुख्य बातें

  • निर्भया की मां ने केजरीवाल सरकार पर साधा निशाना, कहा- दो साल तक सरकार तक सरकार सोई थी
  • मेरी बेटी की मौत का अपने फायदे के लिए इस्तेमाल कर रही है आप सरकार- निर्भया की मां
  • 22 जनवरी को होनी थी निर्भया के दोषियों फांसी,दया याचिका अभी लंबित है

नई दिल्ली: 16 दिसंबर 2012 को हुए निर्भया गैंगरेप मामले में दोषियों को फांसी देने में लगातार हो रहे विलंब के बाद निर्भया की मां व्यथित है। अब इसे लेकर निर्भया की मां ने दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार पर भी निशाना साधा है। टाइम्स नाउ से बात करते हुए उन्होंने कहा, 'दो साल तक सरकार तक सरकार सोई थी। दो दिन से चल रहा है कि उसे देखकर मुझे भी समझ आ गया है कि आखिर निर्भय़ा के दोषियों को फांसी क्यों नहीं मिली।'

यह पहली बार है कि निर्भया के परिवार ने कोई राजनीतिक दल के खिलाफ बयान दिया है। आप सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए निर्भया की मां ने कहा, 'बच्ची की मौत का ये खेल रहे हैं और ये अपनी राजनीति कर रहे हैं। कल मैंने सुना कि सिसोदिया जी कह रहे हैं कि हमें पुलिस दे दीजिए मैं दो दिन में फांसी देकर दिखाऊंगा, तो इससे पुलिस क्या मतलब? तो अब मैं ये कहना चाहूंगी कि कहीं ना कहीं मेरी बेटी की मौत का अपने फायदे के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। जिस तरह कहा कि उससे मुझे लग रहा है कि अपने फायदे के लिए ऐसा कर रहे हैं। अच्छा होता कि महिला सुरक्षा को लेकर बयान देते।'

 

 

आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने निर्भया मामले के दोषियों में से एक की दया याचिका राष्ट्रपति के पास भेजी है और इसे अस्वीकार करने की सिफारिश की है। इससे पहले निर्भया के दोषियों को फांसी में देरी के लिए आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार को जिम्मेदार बताने वाले भाजपा के आरोपों पर पलटवार करते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दो दिन के लिए दिल्ली पुलिस और कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी हमें दे दीजिए हम निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के दोषियों को फांसी पर लटका देंगे।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर