'सत्य प्रताड़ित हो सकता है, पराजित नहीं', पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच बोले नवजोत सिंह सिद्धू

देश
भाषा
Updated Jun 01, 2021 | 17:55 IST

पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पार्टी की तीन सदस्यीय समिति से मुलाकात की और कहा कि सत्य प्रताड़ित हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं हो सकता।

'सत्य प्रताड़ित हो सकता है, पराजित नहीं', पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच बोले नवजोत सिंह सिद्धू
'सत्य प्रताड़ित हो सकता है, पराजित नहीं', पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच बोले नवजोत सिंह सिद्धू  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • कांग्रेस की पंजाब इकाई में चल रही कलह को खत्म करने के पार्टी ने समिति गठित की है
  • पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने समिति के सदस्‍यों से दिल्‍ली में मुलाकात की
  • उन्‍होंने कहा कि वह आलाकमान के बुलावे पर पहुंचे और जो पूछा गया, उस बारे में बताया

नई दिल्ली : कांग्रेस की पंजाब इकाई में चल रही कलह को खत्म करने के मकसद से गठित पार्टी की तीन सदस्यीय समिति से मुलाकात करने के बाद राज्य के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को कहा, 'सत्य प्रताड़ित हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं हो सकता।'

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता वाली समिति के समक्ष अपनी बात रखने के बाद सिद्धू ने संवाददाताओं से कहा, 'आलाकमान के बुलावे पर आया था। उन्होंने पार्टी के बारे में जो पूछा उस बारे में उन्हें सजग कर दिया।'

'जीतेगा पंजाब, जीतेगी पंजाबियत'

उन्होंने इस बात पर जोर दिया, 'मेरा रुख था, है और रहेगा कि पंजाब के लोगों की ताकत जो सरकार के पास जाती है वह लोगों के वापस आनी चाहिए...सत्य प्रताड़ित हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं हो सकता।'

सिद्धू ने कहा, 'पंजाब के हक की आवाज मैंने आलाकमान को बताई। जीतेगा पंजाब, जीतेगी पंजाबियत और जीतेगा हर पंजाबी।'

समिति ने कई नेताओं से की मुलाकात

इस समिति ने सोमवार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ और 20 से अधिक विधायकों से मुलाकात कर उनकी राय सुनी थी। खड़गे के अलावा कांग्रेस महासचिव और पंजाब प्रभारी हरीश रावत और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल इस समिति में शामिल हैं।

गौरतलब है कि हाल के कुछ सप्ताह में अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच तीखी बयानबाजी देखने को मिली है। विधायक परगट सिंह और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कुछ अन्य नेताओं ने भी मुख्यमंत्री के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर