कोरोना महामारी के बीच मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की अपील- घर में ही जुमे की नमाज अदा करें लोग

देश
Updated Mar 27, 2020 | 10:22 IST

कोरोना वायरस महामारी के गहराते संकट के बीच संक्रमण को रोकने के इरादे से लोगों से अपील की गई है कि वह अपने घरों में ही नमाज अदा करें। प्रशासन के साथ मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी यह अपील की है।

People should not offer Namaz in mosque
जुमे की नमाज मस्जिद में अदा नहीं करें लोग 

मुख्य बातें

  • कोरोना महामारी के बीच लोगों से घरों में नमाज करने की अपील
  • मस्जिद में जुमे की नमाज के दौरान नहीं रहेंगे 5 से ज्यादा लोग
  • देशव्यापी बंद के दौरान मस्जिदों में भी भीड़ न जुटाने की सलाह

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के बीच उत्तर प्रदेश में प्रशासन और धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से लोगों से मस्जिदों में नमाज अदा करने के लिए नहीं आने की अपील की जा रही है। डीएम सहित ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी इस बारे में निर्देश जारी किए हैं।  उत्तर प्रदेश में जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) ने लोगों से आग्रह किया है कि वह कोरोना वायरस COVID-19 प्रकोप के मद्देनजर देशव्यापी तालाबंदी के बीच शुक्रवार से घरों में नमाज अदा करें।

स्थानीय प्रशासन ने लॉकडाउन व्यवस्थाओं के बीच उलेमाओं और मौलवियों के साथ एक बैठक की। जहां प्रशासन को आश्वासन दिया गया कि लोगों को घरों में नमाज अदा करने के लिए कहा जाएगा। मस्जिदों में केवल इमामों और कर्मचारी सहित 5 लोगों से ज्यादा लोग नमाज अदा नहीं करेंगे।

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस बारे में ट्वीट करते हुए लिखा, 'कोरोना वायरस महामारी के कारण मुसलमानों को मस्जिदों में जुमे की नमाज अदा करने के बजाय घर से ज़ुहर की पेशकश करने की सिफारिश की जाती है। सभी साथी नागरिकों को नुकसान पहुंचाने से बचने के लिए सामूहिक प्रार्थना के लिए बाहर निकलना अनिवार्य नहीं है।'

डीएम हापुड़ अदिति सिंह ने जामिया अरब खदिल-उल-इस्लाम, जामा मस्जिद की ओर से जारी एक पत्र ट्वीट किया है जिसमें उल्लेख किया गया है कि कोरोना के प्रकोप के कारण मस्जिदों में शुक्रवार को तीन से अधिक लोग नमाज अदा नहीं करेंगे।

लखनऊ के इमाम खालिद रशीद फिरंगी मेहली ने एक बयान में कहा, 'COVID-19 के बढ़ते मामलों के बीच हम सभी के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है। मैं मुस्लिम समुदाय के लोगों से अनुरोध करता हूं कि वह घर पर शुक्रवार की नमाज अदा करें। मस्जिदों में इमाम और कर्मचारियों को 5 लोगों से अधिक नहीं हों।'

यूपी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा, 'भारत सहित दुनिया भर के अधिकांश देश कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं। इसलिए, लोगों के लिए घर के अंदर रहना, सरकार द्वारा जारी सलाहकार का पालन करना महत्वपूर्ण है। घर से ही प्रार्थना करें। प्रत्येक नागरिक को कोविड-19 से लड़ाई में शामिल होना होगा।'

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...