Avalanches in Kashmir : उत्तरी कश्मीर में कई हिमस्खलन, 4 जवानों और 5 नागरिकों ने गंवाई जान

Avalanches in the North Kashmir : कुपवाड़ा, बारामुला और गंदेरबल सेक्टर सहित जम्मू-कश्मीर के उत्तरी हिस्से में कई हिमस्खलन हुए हैं। 4 जवानों ने जान गंवाई है, जबकि 1 लापता है। 5 नागरिकों की भी मौत हुई है।

avalanches
प्रतीकात्मक तस्वीर 

नई दिल्ली: पिछले 2 दिनों में भारी बर्फबारी के कारण उत्तरी कश्मीर के इलाकों में कई हिमस्खलन हुए हैं। एलओसी पर माछिल सेक्टर में सेना की एक चौकी हिमस्खलन की चपेट में आई, जिसमें पांच सैनिक फंसे। तीन सैनिकों की मौत हो गई, एक लापता जबकि एक अन्य को बचाया गया। कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास हिमस्खलन में ही बीएसएफ के एक जवान की मौत हो गई और छह अन्य को बचा लिया गया। यह घटना सोमवार रात साढ़े आठ बजे घाटी के नौगाम सेक्टर में हुई। कुपवाड़ा, बारामूला और गंदेरबल सेक्टर सहित जम्मू और कश्मीर के उत्तरी हिस्से में ये हिमस्खलन हुए हैं। ये ऐसा क्षेत्र है, जहां भारतीय सेना के जवानों और अन्य सीमा सुरक्षा बलों की भारी तैनाती है। 

इसके अलावा गंदेरबल जिले में गगनगीर इलाके के एक गांव में एक अन्य हिमस्खलन हुआ जिसमें पांच नागरिकों की मौत हो गई जबकि चार अन्यों को बचा लिया गया। हिमस्खलन सोमवार रात को आया जब पांच नागरिक इलाके से गुजर रहे थे। पांचों का शव बरामद कर लिया गया है।

BSF ने कहा, 'कल शाम 8:30 बजे एलओसी के पास नौगाम सेक्टर में बीएसएफ की तैनाती पर हिमस्खलन हुआ। तुरंत सर्च और बचाव अभियान शुरू किया गया। बीएसएफ के 7 जवानों में से 6 को सुरक्षित बचा लिया गया, जबकि एक बीएसएफ कांस्टेबल फंस गया, जिसे जीवित नहीं किया जा सका।'

केएम पोसवाल, एसएसपी गांदरबल, जम्मू और कश्मीर ने बताया, 'इस क्षेत्र में 4 इंच बर्फबारी और 2 हिमस्खलन हुए। पहला हिमस्खलन कोलन के पास रायसन में आया था, कुल 12 लोगों को बचाया गया था। कोलन के कोउस के पास एक हिमस्खलन हुआ, जिसमें 5 लोगों की जान चली गई और 4 लोगों को रात भर में बचाया गया।'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर