19 जुलाई से 13 अगस्त तक चलेगा संसद का मानसून सत्र, ओम बिड़ला ने तैयारियों का लिया जायजा

लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला ने सोमवार को बताया कि संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से 13 अगस्त तक चलेगा। बिड़ला ने संसद परिसर में चल रही सत्र की तैयारियों का जायजा भी लिया।

Monsoon Session of Parliament will take place from July 19 to August 13 : Om Birla
19 जुलाई से चलेगा संसद का मानसून सत्र।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • इस बार 19 जुलाई से प्रारंभ होकर 13 अगस्त तक चलेगा संसद का मानसून सत्र
  • लोकसभा के स्पीकर आम बिड़ला ने मानसून सत्र की तैयारियों का लिया जायजा
  • लोकसभा-राज्यसभा के ज्यादातर सदस्यों ने टीके का कम से कम एक खुराक ले ली है

नई दिल्ली : लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला ने सोमवार को आगामी मानसून के बारे में जानकारी दी। लोकसभा स्पीकर ने बताया कि संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से प्रारंभ होकर 13 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान सदन की कार्यवाही 19 दिनों तक चलेगी। बिड़ला ने मानसूत्र सत्र के लिए चल रही तैयारियों का भी जायजा लिया। मानसून सत्र की शुरुआत आम तौर पर जुलाई के तीसरे सप्ताह में होती है और इसका समापन 15 अगस्त से पहले होता है। इस महीने की शुरुआत में लोकसभा के स्पीकर ने कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि मानसूत्र सत्र बुलाया जाएगा और इसके लिए सभी तैयारियां की गई हैं। 

समाचार एजेंसी एएनआई से उन्होंने कहा कि सचिवालय के कर्मचारियों और 445 सदस्यों का टीकाकरण हो चुका है। उन्होंने कहा था कि बाकी बचे सदस्यों एवं कर्मचारियों को भी टीका जल्द लग जाएगा। स्पीकर ने कहा, 'हम संसद का कामकाज बढ़ाना चाहते हैं।' 

आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट से मिलेगी छूट
रिपोर्टों के मुताबिक जिन सांसदों ने कोरोना टीके का कम से कम एक डोज ले लिया है उन्हें संसद भवन में अपनी आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट नहीं दिखानी होगी।  2021 के बजट स एवं 2020 के मानसून सत्र के लिए सांसदों को अपनी आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट सौंपनी पड़ी थी जिसके बाद उन्हें संसद परिसर में जाने की अनुमति दी गई। 

संसद में सोशल डिस्टैंसिंग का होगा पालन 
संसद की कार्यवाही को लेकर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू के बीच कई बैठकें हुईं और इन बैठकों में तय हुआ कि संसद के पिछले सत्र की तरह ही सोशल डिस्टैंसिंग के नियम आने वाले सत्र में भी लागू रहेंगे। 

ज्यादातर सांसदों ने कम से कम एक खुराक ली है
दोनों सदनों के प्रमुखों को यह बताया गया कि ज्यादातर सांसदों ने कोरोना की कम से कम एक खुराक ले ली है। इसके बाद आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट सौंपने में ढिलाई दी गई। अब तक राज्यसभा के 205 सदस्यों ने सचिवालय को बताया है कि उन्होंने टीके की दोनों खुराकें ले ली हैं। सूत्रों के मुताबिक 16 अन्य सदस्यों ने वैक्सीन की एक खुराक ली है। राज्यसभा में अभी सदस्यों की कुल संख्या 231 है, ऐसे में 221 सदस्यों ने कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक खुराक ले ली है। 

लोकसभा के 470 सदस्यों को लगा टीका
लोकसभा की अगर बात करें तो 540 सदस्यों में से 470 ने टीके की कम से कम एक खुराक ले ली है। सूत्रों का कहना है कि लोकसभा के करीब 79 फीसदी सांसद टीके का दोनों डोज ले चुके हैं।     

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर