[Video] JK: बंद पड़े 50 हजार मंदिरों को खोलेने की तैयारी में केंद्र सरकार, सर्वेक्षण करने के लिए बनाई समिति

देश
Updated Sep 23, 2019 | 15:30 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

केंद्र सरकार घाटी में सालों से बंद पड़े मंदिरों और स्कूलों को खोलने की योजना बना रही है। इस बाबत नरेंद्र मोदी सरकार ने एक समिति बनाई हो जो ऐसा सकूलों और मंदिरों का सर्वेक्षण कर सरकार को रिपोर्ट सौंपेगी।

G Kishan Reddy
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हैं जी किशन रेड्डी  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • जम्मू-कश्मीर में सालों से बंद पड़े स्कूलों और मंदिरों को खोलने की तैयारी में केंद्र सरकार
  • केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने सर्वेक्षण करने के लिए समिति बनाई है

बेंगलुरू: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त करने के बाद अब केंद्र सरकार ने एक बार फिर राज्य के लिए बड़े ऐलान किया है। केंद्र सरकार अब जम्मू-कश्मीर में सालों से बंद पड़े स्कूलों और मंदिरों को फिर से खोलेने की तैयारी में है। इस बाबत केंद्र सरकार ने सर्वेक्षण करने के लिए समिति बनाई है। सोमवार को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने इस बात की पृष्टि की।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा, 'हमने कश्मीर घाटी में बंद स्कूलों की संख्या का सर्वेक्षण करने के लिए समिति बनाई है और उन्हें फिर से खोलेंगे। लगभग 50,000 मंदिरों को वर्षों से बंद कर दिया गया था, जिनमें से कुछ मंदिरों और मूर्तियों को नष्ट कर दिया गया था। हमने ऐसे मंदिरों का सर्वेक्षण करने का आदेश दिया है।'

गौरलतब है कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद तमाम तरह की घोषणाएं कर चुकी है। सरकार ने इससे पहले वहां के युवाओं को रोजगार देने के लिए 50 हजार सरकारी भर्तियों को जल्द निकालने का ऐलान किया था। इसके साथ ही घोषणा की थी कि वहां पर जल्द ही रोजगार के अन्य साधन उपल्बध कराए जाएंगे। वहीं, इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी यात्रा पर हैं।

सात दिवसीय यात्रा पर अमेरिका पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कश्मीरी पंडितों से मुलाकात की थी। मुलाकात के दौरान कश्मीरी पंडितों के प्रतिनिधिमंडल ने केंद्र सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त करने के लिए पीएम मोदी का आभार जताया था और इसके लिए उन्हें उनका धन्यावद भी किया था। वहीं, प्रतिनिधित्व मंडल की अगुवाई करने वाले सुरिंदर कौल नाम के शख्स ने पीएम मोदी को बधाई देते हुए भावुक हो गए थे और उन्होंने पीएम मोदी का हाथ चूमकर धन्यवाद किया था।

कौल ने कहा, 'प्रधानमंत्री जी, आपको सात लाख कश्मीरी पंडितों की तरफ से धन्यावद।' कश्मीरी पंडितों को प्रतिनिधिमंडल में शामिल लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा था कि आपने बहुत ही साहस का काम किया है। इसके बाद पीएम मोदी ने भी कहा था कि आप लोगों ने भी बहुत कष्ट झेले हैं। वहीं, केंद्र सरकार पहले ही कह चुकी है कि कश्मीर भी भारत के अन्य राज्यों की तरह विकास के रास्ते पर चलेगा और तेजी से आगे बढ़ेगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर