Mamata Banerjee को इतना गुस्सा क्यों आता है, जानें क्या है मामला

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी नाराज हैं। उनकी नाराजगी इस बात से है कि फारुक अब्दुल्ला से मिलने गये टीएमसी नेताओं को श्रीनगर एयरपोर्ट से बाहर क्यों नहीं निकलने दिया गया।

Mamata Banerjee को इतना गुस्सा क्यों आता है, जानें क्या है मामला
पश्चिम बंगाल की सीएम हैं ममता बनर्जी 

मुख्य बातें

  • श्रीनगर एयरपोर्ट से टीएमसी नेताओं को बाहर नहीं निकलने देने से भड़कीं ममता बनर्जी
  • आखिर कोई कैसे टीएमसी नेताओं को जम्मू-कश्मीर, गुवाहाटी और जेएनयू जाने से रोक सकता है।
  • सीएए के खिलाफ कोलकाता की सड़कों पर कई बार मार्च कर चुकी हैं ममता बनर्जी

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का मिजाज बहुत तेजी से बदलता है। दो दिन पहले जब कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ पर पीएम मोदी बंगाल की धरती पर उतरे तो वो वो एयरपोर्ट नहीं गईं। राजभवन में पीएम मोदी से मुलाकात भी कीं और कुछ देर के बाद राजभवन के बाहर धरने पर बैठ गईं। एक बार वो फिर खफा है लेकिन वजह सीएए, एनपीआर या एनआरसी नहीं है, वो इसलिए खफा हैं क्योंकि उनका कहना है कि टीएमसी नेताओं को श्रीनगर एयरपोर्ट के बाहर नहीं निकलने दिया गया।

ममता बनर्जी कहती हैं कि फारुक अब्दुल्ला से मिलने के लिए उन्होंने टीएमसी के चार नेताओं को फारुक अब्दुल्ला से मिलने के लिए जम्मू-कश्मीर भेजा था। लेकिन क्या हुआ सबको पता है। वो जानती हैं कि मेहमानों के साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता है। लेकिन इसका अर्थ ये नहीं है कि उनकी पार्टी के नेताओं के साथ अपमानजनक अंदाज में पेश आया जाए। यही नहीं ऐसा भी नहीं होगा कि उनके नेताओं को जम्मू-कश्मीर, गुवाहाटी और जेएनयू में घुसने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

 

सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर उनके रूप से हर कोई वाकिफ है, वो सड़कों पर सीएए के खिलाफ उतरा करती थीं। ममता बनर्जी पहले भी कह चुकी हैं कि वो सीएए को बंगाल में लागू नहीं होने देंगी और जहां तक एनआरसी की बात है तो वो उनकी लाश पर ही संभव है। इसके साथ ही जेएनयू हिंसा और कश्मीर का जिक्र करते हुए वो कह चुकी हैं कि आजादी की आवाज मोदी सरकार को पसंद नहीं है। जो कोई शख्स इस सीएए या जम्मू-कश्मीर की बात करता है तो वो मोदी-शाह और आरएसएस की नजर में देशद्रोही साबित हो जाता है। लेकिन उनका फांसीवादी ताकतों के खिलाफ अभियान किसी भी कीमत पर कमजोर नहीं पड़ेगा। 

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...