Coronavirus Maharashtra News, 25th March: महाराष्ट्र में कोरोना मामलों का बढ़ना जारी, लेकिन मिली अच्छी खबर

Maharashtra Coronavirus Latest News UPDATES, 25 March 2020: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों का बढ़ना जारी है। लेकिन इस बीच मुंबई से अच्छी खबर भी सामने आई है।

coronavirus
सांकेतिक फोटो  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि देखी गई है
  • यहां कोरोना पीड़ितों की संख्या 100 के पार पहुंच चुकी है
  • महाराष्ट्र सरकार ने कर्फ्यू लगा रखा है

Coronavirus News Maharashtra:  भारत में पिछले कुछ दिनों के अंदर कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो हुई है। देश में इस खतरनाक वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 500 के पार पहुंच गई है जबकि 11 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमितों में 43 विदेशी हैं। वहीं, अब तक 40 लोग ठीक हो गए हैं जिन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। देश में फिलहाल महाराष्ट्र कोरोना से महाराष्ट्र दूसरा सबसे प्रभावित राज्य है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस मरीजों की संख्यों में बढ़ोतरी हो रही है। 

मुंबई पुलिस ने लॉकडाउन के पालन के लिए लिया ड्रोन का सहारा

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई पुलिस ने स्थिति पर नजर रखने और कर्फ्यू के बीच शहर में लोगों की आवाजाही की जांच करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया, पुलिस को ड्रोन की मदद इसलिए लेनी पड़ी की लोग लॉकडाउन का सही से पालन नहीं कर रहे हैं और रास्तों पर बेवजह घूम रहे हैं।

महाराष्ट्र से आई अच्छी खबर 

महाराष्ट्र में इस वायरस के बुधवार को 5 और मामले सामने आए हैं जिन्हें मिलाकर राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 112 हो गई है। हालांकि, कोरोना की मार झेल रहे महाराष्ट्र के लिए अच्छी खबर है भी है कि मुंबई में वायरस से संक्रमित 12 मरीज इलाज के बाद 'ठीक' हो गए हैं। बीएमसी की उप निदेशक दक्षा शाह ने कहा, 'कोरोना वायरस से संक्रमित 12 मरीजों की जांच रिपोर्ट अभी निगेटिव आई है। इसके अलावा महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है। 

मुख्यमंत्री ने की सहयोगी की अपील  

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कर्फ्यू लगाया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों से इसका पालन करने के लिए सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा कि उन्हें सुबह सड़कों पर यातायात के बारे में पुलिस से शिकायत मिल रही थी और लोगों से यह शिकायत मिली कि आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनियों या प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों के वाहनों को चलने की अनुमति नहीं दी जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा, 'समय की आवश्यकता दोनों ओर से सहयोग की है।' उन्होंने निर्देश देते हुए कि ऐसे वाहनों पर स्टिकर होना चाहिए और कर्मचारियों के पास पहचानपत्र होना चाहिए। ठाकरे ने कहा, 'आप स्थिति की गंभीरता को समझ चुके हैं। हमें उन क्षेत्रों में वायरस के प्रसार को रोकना होगा, जहां तक यह नहीं पहुंचा है और जहां भी यह शुरू हुआ है, इसे रोकना है।' उन्होंने कहा, 'हमने जीना बंद नहीं किया है, लेकिन हमने जीने का तरीका बदला है। घर पर रहें, सुरक्षित रहें।'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर