Maharashtra: उद्धव बोले-कोई इंफ्रा प्रोजेक्ट नहीं रुका है, बुलेट ट्रेन को लेकर फिलहाल कोई निर्णय नहीं

देश
Updated Dec 03, 2019 | 23:44 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Maharashtra cm udhav thakray on mega projects: महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के सूबे की सत्ता संभालने के बाद राज्य की पूर्व फडणवीस सरकार के कामों को लेकर उनके रुख को लेकर अंदाजा लगाया जा रहा है। 

Maharashtra: मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले-कोई इंफ्रा प्रोजेक्ट नहीं रुका है
महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को एक अहम बैठक ली 

मुख्य बातें

  • उद्धव ठाकरे सरकार ने आरे प्रोजेक्ट पर रोक लगाकर अपने इरादे दिखा दिए थे
  • महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं
  • उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में कोई बुनियादी ढांचा परियोजना नहीं रुकी है

नई दिल्ली: कहा जाता है कि राज्य की सत्ता बदलने के बाद सत्तारुढ़ सरकार पहले की सरकार के काम काज में अड़ंगा लगाती है और कई बार उन्हें रोक भी देती है। महाराष्ट्र में सत्ता परिवर्तन के बाद उद्धव ठाकरे सरकार ने आरे प्रोजेक्ट पर रोक लगाकर अपने इरादे दिखा दिए थे। वहीं इसके बाद पीएम मोदी के महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं। 

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को एक अहम बैठक ली इसमें उन्होंने पूर्ववर्ती सरकार के दौरान आधारभूत संरचना पर काम किये जा रहे प्रोजेक्ट की पर चर्चा की। कहा जा रहा है कि जिन प्रोजेक्ट्स पर चर्चा हुई है उनमें बुलेट ट्रेन, समृद्धि एक्सप्रेस वे, मुंबई पुणे हाइपर लूप प्रोजेक्ट आदि अहम बताई जा रही हैं। 

वहीं इसके बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में कोई बुनियादी ढांचा परियोजना नहीं रुकी है और केवल आरे कारशेड को लेकर सरकार ने निर्णय लिया था।  ठाकरे ने कहा,'किसी भी मौजूदा बुनियादी ढांचा परियोजना को रोकने के लिए कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। चूंकि राज्य सरकार स्थिति की समीक्षा कर रही है, बुलेट ट्रेन परियोजना के बारे में भी कोई निर्णय नहीं लिया गया है।'

आरे के जंगलों में मेट्रो कार शेड बनाने पर भी उद्धव सरकार ने रोक लगा दी थी
इसके लिए महाराष्ट्र सरकार की तरफ से दूसरी जगह जमीन आवंटित की गई है। जानकारों का कहना है कि जब फडणवीस सरकार में शिवसेना सहयोगी थी तो उसे बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर किसी तरह का ऐतराज नहीं था। लेकिन अब महाविकास अघाड़ी की सरकार बनने के बाद एनसीपी का दबाव नजर आ रहा है।

दरअसल जब शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की सरकार बनाने की कवायद चल रही थी उस वक्त एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिक की बुलेट ट्रेन पर दिलचस्प टिप्पणी थी। उन्होंने कहा था कि अगर महाविकास अघाड़ी की सरकार बनती है तो इस प्रोजेक्ट पर विचार किया जाएगा।एनसीपी के साथ साथ कांग्रेस का भी इस बात पर जोर था कि बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट किसी खास शख्स के सपने को पूरा करने के लिए नहीं बनाया जाना चाहिये। 

 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर