Ajit Pawar को बड़ी राहत, सिंचाई घोटाले में एंटी करप्शन ब्यूरो ने दी क्लीन चिट

देश
Updated Dec 06, 2019 | 07:16 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

महाराष्ट्र में सिंचाई घोटाले में आरोपों का सामना कर रहे एनसीपी नेता अजित पवार को राहत मिल गई है।

Ajit Pawar को बड़ी राहत, सिंचाई घोटाले में एंटी करप्शन ब्यूरो ने दी क्लीन चिट
एनसीपी नेता हैं अजित पवार 

मुख्य बातें

  • अजित पवार को सिंचाई परियोजनाओं में हुए घोटाले में क्लीन चिट
  • एंटी करप्शन ब्यूरो ने बांबे हाईकोर्ट में पेश किया हलफनामा
  • 'अजित पवार को कानूनी तौर पर जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता'

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया केस और महाराष्ट्र में सिंचाई विभाग के मामले में एक बात समान है कि दोनों में भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं। लेकिन आप को याद होगा कि पी चिदंबरम के वकीलों मे अदालत में जज के सामने कहा कि सीधे तौर पर वो जिम्मेदार नहीं हैं, सभी तरह की जवाबदेही अधिकारियों की है, यानि चिदंबरम पाक साफ है। अब बात करते हैं अजित पवार की, इनके नाम की पहचान बताने की जरुरत नहीं है।

महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो ने उन्हें सिंचाई घोटाले में क्लीन चिट दे दी है। 27 नवंबर को इस संबंध में बांबे हाईकोर्ट में एक हलफनामा पेश किया गया है जिसके मुताबिक अजित पवार को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है, क्योंकि सिंचाई परियोजनाओं को जमीन पर उतारने की कानूनी जिम्मेदारी एजेंसियों की थी ना कि उनकी। 

अजित पवार उस समय सुर्खियों में आए जब उन्होंने अपने चाचा शरद पवार से बगावत की और करीब चार दिन के लिए महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम बन गए । ये बात अलग है कि उन्होंने कार्यभार नहीं संभाला और 26 नवंबर को सुबह में इस्तीफा दे दिया था।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर