दिल्ली में वर्ष 1997 के बाद इस साल सबसे लंबा कोल्ड डे, 4 डिग्री तक पारा गिरने की संभावना

देश
रामानुज सिंह
Updated Dec 26, 2019 | 12:23 IST

 दिल्ली-एनसीआर में 16 दिसंबर के बाद से लोगों को कड़ाके की ठंड से लगातार रू-ब-रू होना पड़ रहा है। 1997 के बाद यह एक रिकॉर्ड है।

Longest cold day in Delhi-NCR this year after the year 1997, mercury likely to fall by 4 degree Celsius
दिल्ली में 16 दिसंबर से लगातार कड़ाके की ठंड पड़ रही है 

मुख्य बातें

  • 16 दिसंबर के बाद से लगातार आज 10वां दिन ठंड का कहर बरकरार है
  • सप्ताह के अंत तक तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक गिरने की संभावना है
  • इससे पहले दिल्ली में दिसंबर 1997 में लगातार 17 दिनों कड़ाके की ठंड पड़ी थी

नई दिल्ली: दिल्ली में बुधवार को न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ ठंड ने जमकर कहर बरपाया। लोग ठंड से ठिठुरते नजर आए। शहर में सुबह मध्यम से घना कोहरा देखा गया। अधिकारियों ने कहा कि अधिकतम तापमान सामान्य 2.7 डिग्री सेल्सियस, सामान्य से नौ डिग्री नीचे दर्ज किया गया। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ठंड बढ़ने की संभावना है क्योंकि सप्ताहांत में पारा 4 डिग्री सेल्सियस तक गिरने की संभावना है। 16 दिसंबर के बाद से लगातार 9वां दिन ठंड का कहर बरकरार रहा। यह रिकॉर्ड  2003 में दर्ज किए गए रिकॉर्ड के बराबर है। गुरुवार को कड़ाके की ठंड का 10वां दिन है। इससे पहले दिल्ली में दिसंबर 1997 में लगातार 17 दिनों कड़ाके की ठंड पड़ी थी।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार एक शीत दिवस (कोल्ड डे) होता है जब अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री कम होता है। उन्होंने बताया कि 'सीवियर कोल्ड डे' तब होता है जब अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 6.5 डिग्री सेल्सियस कम होता है। इस बीच मध्यम गति वाली हवा ने बुधवार को हवा की गुणवत्ता में मामूली सुधार किया। समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक शाम चार बजे 350 पर दर्ज किया गया जबकि मंगलवार को सूचकांक 383 था।

सरकार की वायु गुणवत्ता निगरानी और पूर्वानुमान सेवा SAFAR ने कहा कि उच्च आर्द्रता के साथ शांत सतह हवाओं की विस्तारित अवधि की भविष्यवाणी 27 दिसंबर को की जाती है, जिसका वायु गुणवत्ता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर