कर्नाटक: होम क्वारंटाइन लोगों को हर घंटे सरकार को भेजनी होगी सेल्फी, नहीं तो उठाया जाएगा ये कदम

Karnataka home quarantine: कर्नाटक में होम क्वारंटाइन लोगों को हर घंटे सरकार को सेल्फी भेजने का निर्देश दिया गया है।

selfie
सांकेतिक फोटो (तस्वीर साभार- unsplash) 

मुख्य बातें

  • कर्नाटक में कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है
  • राज्य में लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है
  • सरकार ने लोगों को अपने आसपास से ही सामान खरीदने की सलाह दी है

बेंगलुरु: कोरोने वायरस के चलते देश में लॉकडाउन के बाद से लोगों के बेवजह घरों से निकले पर पाबंदी है। लोगों को सिर्फ जरूरी सामना के खरीदने के लिए ही बाहर निकलने की सलाह दी गई है। वहीं कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी राज्या सरकारें चिंतित हैं और कई एहतियाती कदम उठ रही हैं। ऐसे में कर्नाटक में होम क्वारंटाइन लोगों को सरकार को अपनी सेल्फी भेजना के लिए कहा गया है। अगर कई होम क्वारंटाइन ऐसा नहीं करता है तो उसे सरकार के क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया जाएगा। कर्नाटक के चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉक्टर के सुधाकर ने सोमवार को यह जानकारी दी।

एएनआई के मुताबिक मंत्री के सुधाकर ने कहा, 'सभी होम क्वारंटाइन लोगों को हर घंटे अपनी सेल्फी सरकार (मोबाइल एप्लीकेशन पर) को भेजनी होगी। जो भी ऐसा करने में विफल रहेगा तो टीमें ऐसे लोगों के घरों तक जाएंगी और उन्हें सरकार द्वारा बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट किया कर दिया जाएगा।' होम क्वारंटाइन का मतलब अपने घर में रहते हुए अपने आप को दूसरे लोगों से अलग कर लेना है। बता दें कि कर्नाटक में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। यहां कोरोना के मरीजों की सख्या बढ़कर 80 के पार पहुंच गई है।

'अपने आसपास से ही सामान खरीदें लोग'

कोरोना वायरस के प्रसार को काबू करने के मद्देनजर कर्नाटक सरकार ने सब्जियों और राशन सहित आवश्यक सामान की खरीद को स्थानीय स्तर पर ही बढ़ावा देने का फैसला किया है। गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा, 'हमने फैसला किया है कि सब्जियों और राशन की खरीद स्थानीय स्तर पर होनी चाहिए। चीजें आसपास से ही खरीदी जाएं और जितना संभव हो लोगों को पैदल चलकर ही सामान खरीदने जाना चाहिए, वाहनों के जरिए नहीं।' पुलिस, निगम और श्रम विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद मंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि प्रवासी मजदूरों के लिए भी नए दिशानिर्देश तय किए गए हैं कि वे जहां हैं, उन्हें वहीं रहना होगा और कहीं नहीं जाना चाहिए।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर