Karnataka: BJP विधायक के विवादित बोल- भगवाकरण है मेरा एजेंडा, मुस्लिमों की सुविधाओं में करेंगे कटौती

देश
किशोर जोशी
Updated Jan 26, 2020 | 00:23 IST

कर्नाटक में भाजपा के एक विधायक रेणुकाचार्य ने मुस्लिमों को लेकर विवादित बयान देते हुए कहा है कि भगवाकरण मेरा एजेंडा है और मुस्लिमों की सुविधाओं में कटौती की जाएगी।

Karnataka BJP MLA Renukacharya says my agenda is saffronisation, will cut facilities to Muslims
भगवाकरण मेरा एजेंडा, मुस्लिमों की सुविधाओं में होगी कटौती- BJP MLA 

मुख्य बातें

  • कर्नाटक के एक बीजेपी विधायक रेणुकाचार्य ने मुस्लिमों को लेकर दिया विवादित बयान
  • रेणुकाचार्य बोले- जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिया उनकी सुविधाओं में करेंगे कटौती
  • मेरा एजेंडा भविष्य में मेरे निर्वाचन क्षेत्र का भगवाकरण करना है- बीजेपी विधायक

दावणगेरे (कर्नाटक):  कर्नाटक के भाजपा नेता और विधायक एमपी रेणुकाचार्य ने एक विवादित बयान दिया है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव रेणुकाचार्य ने यह कहते हुए एक नया विवाद खड़ा कर दिया कि 'वह होन्नाली विधानसभा क्षेत्र में अल्पसंख्यकों को दी जाने वाली सभी सुविधाओं में कटौती करेंगे क्योंकि यहां के लोगों ने चुनाव में उन्हें वोट नहीं दिया।'

अपने विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, 'यहां के लोगों ने 2018 के चुनावों में मुझे वोट नहीं दिया और मुझे यकीन है कि वे भविष्य में भी मुझे वोट नहीं देंगे। इसीलिए मैं उन जगहों को ढूंढना चाहता हूं जहां जिन निर्वाचन क्षेत्रों में वे रहते हैं और मैं उन्हें होन्नाली में दी गई सुविधाओं में कटौती करूंगा। मेरा एजेंडा भविष्य में मेरे निर्वाचन क्षेत्र का भगवाकरण करना है। मैं मुसलमानों से वोट नहीं मांगता हूं।'

रेणुकाचार्य के इस विवादित बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा है कि राज्य के नेता प्रधानमंत्री द्वारा निर्धारित उदाहरण का अनुसरण कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 'अपने खराब कार्यों को छिपाने के लिए नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के नाम का जाप करते रहते हैं और कर्नाटक में भाजपा नेता दिल्ली के नेताओं के नक्शेकदम पर चल रहे हैं। वे ऐसा इसलिए बोल रहे हैं ताकि सांप्रदायिक तनाव पैदा हो सके और ऐसा लगता है कि उन्होंने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है।' 

रेणुकाचार्य के लिए विवादित बयान देना कोई नई बात नहीं है वह पहले भी इसी तरह के बयान दे चुके हैं। कुछ समय पहले उन्होंने था था 'कुछ गद्दार प्रार्थना करने के बजाय मस्जिदों में हथियार रखते हैं। कुछ गद्दार ऐसे हैं जो मस्जिद में बैठते हैं और फ़तवा लिखते हैं। वे नमाज़ पढ़ने के बजाय मस्जिद के अंदर हथियार जमा करते हैं। क्या यही वजह है कि आप मस्जिद चाहते हैं?'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर