JNU Violence Updates: कोलकाता से लेकर मुंबई तक में प्रदर्शन, फिल्म जगत की हस्तियां भी हुईं शामिल

देश
लव रघुवंशी
Reported by टाइम्स नाउ डिजिटल
Updated Jan 07, 2020 | 00:32 IST

JNU attack : जेएनयू परिसर में हुई हिंसा के सिलसिले में मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने JNU अधिकारियों के साथ की बैठक। क्राइम ब्रांच जांच कर रही है। ABVP ने लेफ्ट छात्रों को हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

JNU attack
JNU violence live updates 

मुख्य बातें

  • रविवार शाम को जेएनयू परिसर में नकाबपोशों का हमला, परिसर में जमकर तोड़फोड़ मचाई, कई छात्र घायल
  • हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष भी घायल हुईं। घायलों को AIIMS में भर्ती कराया गया
  • गृह मंत्रालय ने हिंसा पर दिल्ली पुलिस से रिपोर्ट मांगी है। हर तरफ से इस हिंसा की निंदा की जा रही है, सरकार को घेरा जा रहा

नई दिल्ली : जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में रविवार शाम को हुई हिंसा से तनाव बना हुआ है। इस हिंसा में 30 से ज्यादा लोग घायल हुए। इस हिंसा की चौतरफा निंदा की जा रही है। जेएनयू में रविवार को उस समय हिंसा भड़क गई जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला किर दिया। इन्होंने परिसर में जमकर तोड़फोड़ मचाई और काफी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष सहित कम से कम 30 लोग घायल हो गए जिन्हें एम्स में भर्ती कराया गया। सोमवार सुबह 34 छात्र एम्स से डिस्चार्ज कर दिए गए। इस हिंसा पर गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस प्रमुख अमूल्य पटनायक से बात की और मंत्रालय ने उनसे रिपोर्ट मांगी है। दिल्ली पुलिस ने दंगा करने और संपति को नुकसान पहुंचाने के संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। वहीं जेएनयू के कुलपति एम जगदीश कुमार ने सभी छात्रों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

JNU Attack UPDATES : 

  • कल दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हिंसा के खिलाफ मुंबई के कार्टर रोड पर आयोजित एक विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप, अनुभव सिन्हा, तापसी पन्नू, ज़ोया अख्तर, दीया मिर्ज़ा, राहुल बोस। एबीवीपी के सदस्य मुंबई ks हुतात्मा चौक पर जेएनयू हिंसा के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं।

  • JNU हिंसा के विरोध में देशभर में प्रदर्शन, मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर भारी भीड़ उमड़ी। इस दौरान कुछ आपत्तिजनक पोस्टर भी दिखे जिनमें 'फ्री कश्मीर' लिखा गया गया था।

 

 

  • जेएनयू कैंपस में नकाबपोशों द्वारा किए गए हमले और बीजेपी व विपक्षी दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मामले की असली तस्वीर लाने के लिए एक चार सदस्यीय एक फैक्ट फाइंडिंग कमिटी बनाई है जिसमें कांग्रेस नेता अमृता धवन, महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव, हिबी इडेन, कांग्रेस सांसद औऱ सैय्यद नासिर हुसैन शामिल हैं।

  • जेएनयू में रविवार को हुई हिंसा के विरोध में देश के कई हिस्सों में विरोध- प्रदर्शन हो रहे हैं।  तमिलनाडु में इस हिंसा के विरोध में छात्रों ने चेन्नई में कैंडल मार्च निकाला। वहीं पश्चिम बंगाल की जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्र भी मार्च निकाल रहे हैं। बंगाल में छात्रों औऱ पुलिस के बीच नोंकझोंक हुई जिसमें पुलिस ने लाठीचार्ज किया है।

 

 

  • सूत्रों के मुताबिक जेएनयू हिंसा मामले में चार जनवरी को दर्ज शिकायत के अनुसार एक एफआईआर दर्ज की गई है। पंजीकरण प्रक्रिया में बाधा के बारे में #JNU व्यवस्थापक की शिकायत पर 4 जनवरी को एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। हाथापाई और बाधा को लेकर दूसरी और तीसरी एफआईआर दर्ज की गई थी। जेएनयू में कल की घटना को लेकर आज 4 एफआईआर दर्ज की गई।

 

 

  • मामले में एफआईआर दर्ज की गई है। जांच चल रही है। फुटेज इकट्ठा किया जा रहा है। कुल 34 व्यक्ति घायल हुए और सभी 34 को एम्स ट्रॉमा सेंटर से छुट्टी दे दी गई। जैसे ही पीसीआर कॉल मिली, एडमिन ब्लॉक में मौजूदा स्टाफ ने मौके पर पहुंच कर जांच की, उसके बाद पुलिस अंदर गई और फ्लैग मार्च के जरिए स्थिति को कंट्रोल किया। 

 

 

  • आईशी घोष ने कहा- कल का हमला आरएसएस औऱ एबीवीपी के गुंडों ने करवाया था। पिछले 4-5 दिनों से कुछ आरएसएस से संबंधित प्रोफेसर्स और एबीवीपी ने कैंपस में हिंसा को बढ़ावा दिया। एबीवीपी के सदस्यों ने परिसर में एंबुलेंस को आने नहीं दी। यह व्यवस्थित और जानबूझकर किया गया हमला था।

 

 

  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (JNUSU) की अध्यक्ष आइशी घोष ने रविवार को जेएनयू में हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'हम इसकी निंदा करते हैं और हम चाहते हैं कि कुलपति को तत्काल हटाया जाए।'

 

 

  • दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों और शिक्षकों ने विश्वविद्यालय में कल की हिंसा के विरोध में मानव श्रृंखला बनाई। इस मानव श्रृखंला में बड़ी संख्या में छात्र और शिक्षक दोनों शामिल हुए हैं।

 

 

  • बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर बोले-  इसकी निंदा करनी होगी। यह काफी दुखद और चौंकाने वाला था जो मैंने देखा, यह बहुत परेशान करने वाला था। मैं पूरी रात उसके बारे में सोचते हुए सो नहीं सका। हिंसा से हमें कुछ हासिल होने वाला नहीं है और जिन्होंने ऐसा किया है उन्हें सजा मिलनी चाहिए।

 

 

  • केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक बोले- विश्वविद्यालय शिक्षा के लिए हैं और इसे कभी भी राजनीतिक आधार नहीं बनाया जाना चाहिए। जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। हम विश्वविद्यालयों को राजनीति का अड्डा कभी नहीं बनने देंगे।

 

 

  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार के बाहर तृणमूल कांग्रेस के नेता शांतनु सेन, दिनेश त्रिवेदी, विवेक गुप्ता, मनीष भुइया, सजदा अहमद। इन्हें विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई। 
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के गेट के बाहर लगभग 700 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। जेएनयू के छात्र यूनिवर्सिटी के नॉर्थ गेट के सामने इकट्ठा होकर विरोध प्रदर्शन कर रहे।
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय की तरफ से कहा गया, 'सचिव अमित खरे ने आज प्रोटेम वीसी, प्रो चिंतामणि महापात्रा, रजिस्ट्रार जेएनयू डॉ प्रमोद कुमार, प्रो. राणा प्रताप सिंह (Rector III) और प्रॉक्टर, प्रो. धनंजय सिंह सहित जेएनयू अधिकारियों की टीम के साथ बैठक की। सचिव ने उनके साथ विस्तृत चर्चा की और जेएनयू की वर्तमान स्थिति के बारे में भी जानकारी ली।'
  • ​ABVP ने जेएनयू में हुई हिंसा के लिए लेफ्ट छात्रों को जिम्मेदार ठाहराया। एबीवीपी ने उन छात्रों के भी नाम लिए, जिन्होंने हिंसा फैलाई। एबीवीपी ने कहा जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष ने भीड़ का नेतृत्व किया और  नकाबपोश बदमाश जामिया से आए थे। लोगों को इकट्ठा करने के लिए व्हाट्सएप संदेश प्रसारित किए गए। 
  • जेएनयू के चीफ प्रॉक्टर धनंजय सिंह ने कहा, 'यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि विश्वविद्यालय में बेरोकटोक हिंसा हुई है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) के सचिव के साथ आज हमारी बहुत अच्छी बैठक हुई। विश्वविद्यालय को सामान्य बनाने के प्रयास जारी हैं।'
  • दिल्ली पुलिस ने एम्स ट्रॉमा सेंटर में कुछ घायल छात्रों के बयान दर्ज किए हैं। बाकियों का वर्जन कैंपस में लिया जाएगा। क्राइम ब्रांच की टीम कैंपस में ही मौजूद है। 
  • JNU ने कैंपस में हिंसा की विस्तृत रिपोर्ट, घटनाओं का क्रम मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भेजा। दक्षिण पश्चिम डीसीपी देवेंद्र आर्य और संयुक्त सीपी आनंद मोहन वापस कैंपस पहुंचे हैं। अब कैंपस के अंदर भी भारी पुलिस की तैनाती है।
  • हिंसा को लेकर जेएनयू शिक्षक संघ ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को पत्र लिखकर स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग की है। शिक्षकों ने वीसी एम जगदीश कुमार को भी बर्खास्त करने की मांग की है।
  • जेएनयू का मुख्य द्वार वाहनों के लिए बंद है। पैदल वालों के लिए खुला है। वहीं JNUSU की मांगें हैं कि बढ़ी हुई फीस तुरंत वापस ली जाए। परीक्षा के लिए सेमेस्टर का विस्तार किया जाए। छात्रों पर से दर्ज FIR हटाई जाए। जेएनयू के वीसी को हटाया जाए।
  • ​जेएनयू के साबरमती हॉस्टल के वरिष्ठ वार्डन आर मीणा ने यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि हमने कोशिश की, लेकिन छात्रों को सुरक्षा नहीं दे सके। 
  • JNU के रजिस्ट्रार और उप कुलपति ने आज सुबह उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की और उन्हें स्थिति से अवगत कराया। एम्स ट्रॉमा सेंटर और सफदरजंग अस्पताल में 35 छात्रों का मेडिकल पूरा हो चुका है। जेएनयू हिंसा का मामला क्राइम ब्रांच को सौंपा गया। पुलिस छात्रों से बात करेगी और सबूत इकट्ठा करना शुरू करेगी। 

     

  • एम्स ट्रॉमा सेंटर के प्रमुख डॉ. राजेश मल्होत्रा ने बताया- कल इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किए गए जेएनयू के सभी 34 छात्रों को छुट्टी दे दी गई है।
  • जेएनयू के कुलपति एम जगदीश कुमार ने कहा, 'सभी छात्रों से शांति बनाए रखने की अपील करना चाहेंगे। विश्वविद्यालय सभी छात्रों को अकादमिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने की सुविधा प्रदान करने के लिए खड़ा है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि उनका विंटर सेमेस्टर रजिस्ट्रेशन बिना किसी बाधा के संपन्न होगा। उन्हें प्रक्रिया के बारे में डरने की जरूरत नहीं है। विश्वविद्यालय की सर्वोच्च प्राथमिकता हमारे छात्रों के शैक्षणिक हितों की रक्षा करना है।' 
  • सूत्रों के अनुसार, गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से बात की है और उनसे जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के प्रतिनिधियों को बुलाने और बातचीत करने का अनुरोध किया है।
  • जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। अस्पताल में भर्ती 23 छात्रों को छुट्टी दे दी गई है। देवेंद्र आर्य, डीसीपी (दक्षिण-पश्चिम) ने कहा, 'हमने कल जेएनयू में हुई हिंसा का संज्ञान लिया है और एक प्राथमिकी दर्ज की है। सोशल मीडिया और सीसीटीवी फुटेज जांच का हिस्सा होंगे।
  • स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI), स्टूडेंट विंग ऑफ CPM आज दोपहर 2 बजे जेएनयू पर हमले के खिलाफ कोलकाता स्थित जादवपुर यूनिवर्सिटी में विरोध रैली निकालेंगे।
  • जेएनयू की एक छात्रा कल शाम की हिंसा के बाद परिसर से बाहर निकल गई। उसने कहा, 'लाठी और डंडों से लैस लोग बाहर से आए। विश्वविद्यालय में स्थिति गंभीर है। इसलिए, मैं अभी कैंपस से बाहर जा रही हूं।' 
  • JNU टीचर्स एसोसिएशन आज दोपहर 2 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा।
  • जेएनयू हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर बैठक चल रही है। बैठक में आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के मंत्री मौजूद हैं।
  • JNU हिंसा की जांच के लिए टीम गठित की गई हगै। ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया है। इसमें 2 एसीपी, 4 इंस्पेक्टर और 8 सब इंस्पेक्टर होंगे। वे सीधे जेसीपी को रिपोर्ट करेंगे।
  • जेएनयू में दो एंबुलेंस सुबह से मौजूद हैं। जेएनयू छात्र संघ ने बयान जारी कर वाइस चांसलर का इस्तीफा मांगा है।
  • दिल्ली पुलिस ने कहा- हमें JNU में कल हुई हिंसा के संबंध में कई शिकायतें मिली हैं। हम जल्द ही एफआईआर दर्ज करेंगे।
  • दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जानकारी; मथुरा रोड और कालिंदी कुंज के बीच रोड नंबर 13ए पर ट्रैफिक मूवमेंट बंद है। नोएडा से आने वाले लोगों को दिल्ली पहुंचने के लिए DND या अक्षरधाम से जाने की सलाह दी जाती है।
  • मुंबई: JNU में कल हुई हिंसा के खिलाफ मुंबई में छात्रों ने गेटवे ऑफ इंडिया के बाहर विरोध प्रदर्शन जारी रखा। 
  • जामिया समन्वय समिति (JCC): हम मांग करते हैं कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में आतंक फैलाने वाले गुंडों की पहचान की जाए और उनके खिलाफ तुरंत FIR दर्ज की जाए।
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के छात्रों ने भी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हिंसा के खिलाफ कैंडल लाइट प्रदर्शन किया। 
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) ने जेएनयू प्रशासन से हिंसा पर मांगी रिपोर्ट। मंत्रालय ने आज JNU रजिस्ट्रार, प्रॉक्टर और रेक्टर को अपने कार्यालय में बुलाया है।
अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...