Javed Akhtar:जावेद अख्तर का सामना में लेख, लिखा-हिंदू दुनिया का सबसे सहनशील बहुसंख्यक

Javed Akhtar's article in Saamana:जावेद अख्तर ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में एक लेख लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि हिंदू दुनिया का सबसे सहिष्णु समुदाय है और भारत कभी अफगानिस्तान नहीं बनेगा।

Javed Akhtar
प्रसिद्ध पटकथा लेखक और गीतकार जावेद अख्तर 

नई दिल्ली: प्रसिद्ध पटकथा लेखक और गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने शिवसेना के मुखपत्र सामना (Saamana) में एक लेख में कहा कि हिंदू (Hindu) दुनिया में सबसे "सभ्य" और "सहिष्णु" बहुसंख्यक हैं। तालिबान की राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और विश्व हिंदू परिषद (VHP) के साथ तुलना करने के बाद, अख्तर को आलोचना का सामना करने के कुछ दिनों बाद यह लेख मंगलवार को प्रकाशित हुआ।

शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखे लेख में उन्होंने कहा है कि तालिबान के शासन वाले अफगानिस्तान की तुलना भारत से कभी नहीं की जा सकती, उन्होंने भारतीयों को नरम विचारधारा वाला बताया है।

आरएसएस और विश्व हिंदू परिषद के साथ तुलना करने के बाद, जावेद अख्तर को आलोचना झेलनी पड़ी थी उसके बाद उन्होंने यह लेख लिखा है।पूर्व मुख्यमंत्री (सीएम) देवेंद्र फडणवीस के संदर्भ में, जिन्होंने कहा था कि केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की यात्रा के बाद दिवंगत शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे के अस्थायी स्मारक में शुद्धिकरण शिवसेना की "तालिबानी मानसिकता" को दर्शाता है, अख्तर ने भारतीय जनता पार्टी का नाम लिए बिना कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे के सबसे बुरे आलोचक भी उन पर किसी भी भेदभाव या अन्याय का आरोप नहीं लगा सकते।

गौर हो कि फडणवीस ने कहा था कि केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की यात्रा के बाद दिवंगत शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे के अस्थायी स्मारक की शुद्धिकरण शिवसेना की 'तालिबानी मानसिकता' को दर्शाता है।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर