Corona के खिलाफ लड़ाई में इंडियन नेवी आई सामने, किफायती थर्मल गन का किया ईजाद

देश
ललित राय
Updated Apr 02, 2020 | 09:49 IST

किसी शख्स में कोरोना है या नहीं उसकी पहली पहचान शरीर के तापमान के जरिए जाना जाता है। बाजार में कई तरह के थर्मल गन उपलब्ध हैं। इस बीच भारतीय नौसेना ने भी थर्मल गन का इजाद किया है जो किफायती है।

Corona के खिलाफ लड़ाई में इंडियन नेवी आई सामने, किफायती थर्मल गन का किया इजाद
इंडियन नेवी ने किफायती थर्मल गन बनाया 

मुख्य बातें

  • इंडियन नेवी ने किफायती थर्मल गन का किया ईजाद
  • एक साथ बड़ी संख्या में लोगों की हो सकती है स्क्रीनिंग
  • देश भर में अब कोरोना के मामले 2 हजार के करीब

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए खतरे के बीच इंडियन नेवी ने एक ऐसे थर्मल गन को बनाया है जो बहुत ही किफायती है। इस इंफ्रारेड आधारित टेंप्रेचर सेंसर को इन हाउस बनाया गया है और इसकी कीमत एक हजार रुपए से कम है। इंडियन नेवी का कहना है कि इस थर्मल गन से बड़े पैमाने पर लोगों की स्क्रीनिंग की जा सकती है। इसके जरिए यार्ड में दाखिल होने वालों के टेंप्रेचर को रिकॉर्ड किया जाएगा।

किफायती थर्मल गन
नेवी का कहना है कि इसकी वजह से गेट पर संतरी पर बोझ कम होगा। अभी गेट पर लंबी लाइन लग जाती है। बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना के केस में तेजी से इजाफा हुआ है। बाजार में आमतौर पर थर्मल गन की कीमत ढ़ाई हजार से शुरू होती है। इसके साथ ही कई जगहों से शिकायत आ रही है कि मशीन की गुणवत्ता में कमी है। ऐसी सूरत में इंडियन नेवी द्वारा तैयार की गई थर्मल गन आम लोगों तक पहुंच बना सकती है। 


देश में अब तक 1837 कोरोना के मामले
बता दें कि देश में इस समय कोरोना के कुल 1837 केस दर्ज किए गए हैं। 25 मार्च के बाद तेजी से यह संख्या बढ़ी है। कोरोना के चेन को तोड़ने के लिए 21 दिनों का पूरे देश में लॉकडाउन है। केंद्र और राज्य सरकारों की तरफ से बार बार अपील की जा रही है कि लोग अपने आप को घरों में ही कैद करें। अनावश्यक घूमने से कोरोना संक्रमण का खतरा ज्यादा है। अगर महाराष्ट्र की बात करें तो कोरोना के सबसे ज्यादा मामले यहीं से आए हैं।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर