तट रक्षकों ने संदिग्ध शिप से बरामद किए 1,160 किलो प्रतिबंधित ड्रग्स, सवार 6 लोग गिरफ्तार

देश
Updated Sep 21, 2019 | 15:33 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

पोर्ट ब्लेयर के पास भारतीय तट रक्षकों ने एक संदिग्ध मालवाहक जहाज को अपने कब्जे में किया जिससे 300 करोड़ के प्रतिबंधित ड्रग्स बरामद किए गए हैं। शिप पर सवार सभी 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

indian coastal guard
भारतीय तट रक्षक  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली : भारतीय तट रक्षक (इंडियन कोस्टल गार्ड) बलों ने कार निकोबार द्वीप के पास मालवाहक जहाज को अपने कब्जे में किया है। इस जहाज में छह लोग सवार थे जो पोर्ट ब्लेयर की तरफ जा रहे थे। तट रक्षकों को इस शिप पर संदिग्ध सामानों को ले जाए जाने की जानकारी मिली थी जिसके बाद शिप को पकड़ा गया था। शिप पर सवार सभी 6 लोगों को पूछताछ के लिए पुलिस के पास भेज दिया गया है। 

कोस्ट गार्ड ने इस संबंध में ट्वीट करते हुए कहा कि इंडिया कोस्टल गार्ड शिप राजवीर समुद्री ऑपरेशन के दौरान म्यांमार के एक जहाज को पकड़ा जिसमें छह लोग सवार थे। घटना 19 सितंबर को यानि गुरुवार की है। इस ऑपरेशन में 1,160 किलोग्राम के प्रतिबंधित ड्रग्स बरामद किए गए जो शिप पर सवार थे।

अंडमान और निकोबार कोस्ट गार्ड इंचार्ज इंस्पेक्टर जनरल मनीष पाठक के नेतृत्व में इस पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। शिप में केटामाइन ड्रग्स बरामद किए गए जिसकी मात्रा 1,160 किलोग्राम थी। बरामद किए गए ड्रग्स की कुल कीमत 300 करोड़ रुपए बताए जाते हैं। ड्रग्स के साथ-साथ 6 लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।

शिप पर लदे हुए इन ड्रग्स को साउथ-इस्ट एशियन कंट्री ले जाया जा रहा था। भारतीय तट रक्षकों ने 19 सितंबर को इस शिप को संदिग्ध सामानों के साथ पकड़ा था जिसे जांच पड़ताल के लिए पोर्ट ब्लेयर में नारकोटिक्स विभाग को भेजा गया। कोस्टल गार्ड प्रवक्ता डीआईजी विजय कुमार ने ये जानकारी दी। 

तटरक्षक बल के एक डोर्नियर निगरानी विमान द्वारा जहाज का पता लगाने और नियंत्रण केंद्र को सूचित करने के बाद पूरे ऑपरेशन का संचालन किया गया। पोत को आईसीजीएस राजवीर ने पकड़ा था।

यह पहली बार नहीं है जब भारतीय तटरक्षक बल ने भारतीय जल के अंदर म्यांमार के जहाजों को पकड़ा है। पिछले साल, तटरक्षक ने 24 लोगों के साथ दो जहाजों को रोक दिया था, जो भारतीय समुद्री क्षेत्र में अवैध रूप से मछली पकड़ रहे थे।
  

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर