[VIDEO] पाकिस्तान से फायरिंग के बीच भारतीय सेना के जवानों ने बचाया स्कूली बच्चों को

देश
Updated Sep 14, 2019 | 21:19 IST

जम्मू-कश्मीर के बालाकोट सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों ने मासूम स्कूली बच्चों को फायरिंग के बीच से बचाया है,इसका एक वीडियो सामने आया है।

army
भारतीय सेना ने इस बार मेंढर तहसील के बालाकोट सेक्टर में सैंडोटे गाँव के सरकारी स्कूल के बच्चों को बचाया है  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • भारतीय सेना ने इस बार बालाकोट सेक्टर में सैंडोटे गाँव के सरकारी स्कूल के बच्चों को बचाया है
  • पाकिस्तान से क्रास बार्डर फायरिंग हो रही थी जिससे इन मासूम स्कूली बच्चों के लिए बड़ा खतरा हो गया था
  • सेना के जवानों के इस बहादुरी भरे काम का वीडियो सामने आया है

नई दिल्ली: कश्मीर में भारतीय सेना के जवान ना सिर्फ देश की रक्षा करते हैं बल्कि पड़ोसी देश की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब भी देते हैं, इसके अलावा सेना के जवान लोगों की मदद के लिए भी आगे रहते हैं ऐसा ही एक मामला सामने आया है बालाकोट सेक्टर में जहां आर्मी के जवान स्कूली बच्चों को बचाते नजर आ रहे हैं।

भारतीय सेना ने इस बार मेंढर तहसील के बालाकोट सेक्टर में सैंडोटे गाँव के सरकारी स्कूल के बच्चों को बचाया है, दरअसल इस दौरान पाकिस्तान से क्रास बार्डर फायरिंग हो रही थी जिससे इन मासूम स्कूली बच्चों के लिए बड़ा खतरा हो गया था। भारतीय सेना ने बालाकोट और बेहरोट गांव में 2 अन्य स्कूलों के बच्चों को बचाया है, सेना के जवानों के इस बहादुरी भरे काम का वीडियो सामने आया है।

 

 

इससे पहले अगस्त में ही जम्मू में रेस्क्यू ऑपरेशन में वायुसेना के जवानों ने तवी नदी में फंसे दो लोगों को बचा लिया था, एयरफोर्स जवानों ने जांबाजी दिखाते हुए दो लोगों को सकुशल बचाया था नदी में फंसे चारों लोगों को बचाने के लिए यहां सेना ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया था,करीब तीन घंटे तक चले इस रेस्क्यू आपरेशन को देखने के लिए लोगों का जमावड़ा लगा हुआ था। 

पहले यह ऑपरेशन इसलिए फेल हो गया कि रस्सी टूट जाने से दो लोग दोबारा नदी में गिर गए थे इसके बाद सेना ने बचे दो लोगों के लिए ऑपरेशन शुरू किया था।

बरसात के हर मौसम में तवी में अचानक आई बाढ़ में लोग फंस जाते हैं उन्हें स्टेट डिजास्टर रेस्क्यू फोर्स या फिर एयरफोर्स की सहायता से ही लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जाता है।

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...