80 फीसदी घरों में हो विवेकानंद की तस्‍वीर तो अगले 30 साल तक राज करेगी बीजेपी : बिप्‍लव देब

Tripura CM Biplab Deb news: त्रिपुरा के सीएम बिप्‍लब कुमार देव के मुताबिक, अगर घरों में विवेकानंद की तस्‍वीरें टांगी जाएं तो बीजेपी अगले तीन दशक तक सत्‍ता में बनी रहेगी।

80 फीसदी घरों में हो विवेकानंद की तस्‍वीर तो अगले 30 साल तक होगा बीजेपी का राज : बिप्‍लव देब
80 फीसदी घरों में हो विवेकानंद की तस्‍वीर तो अगले 30 साल तक राज करेगी बीजेपी : बिप्‍लव देब  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • त्रिपुरा के सीएम बिप्‍लव देब अपने बयान को लेकर फिर चर्चा में हैं
  • उन्‍होंने घरों में स्‍वामी विवेकानंद की तस्‍वीरें लगाने का संदेश दिया
  • साथ ही कहा कि ऐसा होता है तो बीजेपी 30 वर्ष तक सत्‍ता में रहेगी

अगरतला : त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब एक बार फिर अपने बयान को लेकर चर्चा में हैं। उन्‍होंने कहा कि पूर्वोत्तर राज्य में 80 प्रतिशत घरों में अगर स्वामी विवेकानंद की तस्वीरें और उनके संदेश हों तो बीजेपी यहां अगले तीन दशक तक सत्ता में रह सकती है। पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं को संबोध‍ित करते हुए उन्‍होंने यह बात कही और उन्‍हें स्‍वामी विवेकानंद की तस्‍वीरें राज्य में लोगों के बीच वितरित करने के लिए कहा। 

बीजेपी की महिला मोर्चा को संबोधित करते हुए त्रिपुरा के सीएम ने कहा, 'मैंने देखा है, यहां तक कि मेरे गांव में भी लोगों ने कम्युनिस्ट नेता ज्योति बसु, जोसफ स्टालिन, माओ जेदॉन्‍ग की तस्वीरें अपने घरों में लगा रखी हैं। क्या हम स्वामी विवेकानंद की तस्वीरें नहीं लगा सकते? हमारी पार्टी अपनी विचारधाराओं और संस्कारों को कायम रखेगी। अगर त्रिपुरा के 80 प्रतिशत घरों में स्वामी विवेकानंद की तस्वीरें हों तो यह सरकार अगले 30-35 साल तक सत्ता में रहेगी।'

'ज्‍यादा बोलकर ऊर्जा बर्बाद न करें'

वह बुधवार को बीजेपी महिला मोर्चा को संबोधित कर रहे थे, जब उन्होंने कहा, 'स्वामी विवेकानंद ने कहा था, कम बोलें, शांत रहें और काम पर ध्यान दें। ज्यादा बोलने से हमारी ऊर्जा नष्ट हो जाती है। इसलिए हमें हमारी ऊर्जा बर्बाद नहीं करनी चाहिए।' उन्होंने बीजेपी की महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं से कहा कि वे लोगों के बीच भारतीय संस्कृति का प्रचार-प्रसार करें। इससे पहले अगस्‍त में उन्‍होंने कोविड-19 के मरीजों को मानसिक रूप से मजबूत बनाने और प्रेरित करने के लिए स्वामी विवेकानंद पर लिखी किताबें बांटी थीं।

यहां उल्‍लेखनीय है कि त्रिपुरा के सीएम अक्‍सर अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। पिछले दिनों वह तब चर्चा में आए थे, जब उन्‍होंने पंजाबी और जाट समुदायों को लेकर एक विवादित टिप्पणी की थी। इस मामले ने इतना तूल पकड़ा कि उन्‍हें अगले ही दिन माफी मांगनी पड़ी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर