जैश-ए-मोहम्मद की धमकी के बाद हरियाणा में बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस को मिला कराची से आया संदेश

देश
Updated Sep 17, 2019 | 20:02 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से एक धमकी भरा पत्र सामने आया था, जिसके बाद यहां रेलवे स्टेशनों और अन्य महत्वपूर्ण जगहों की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है।

Terrorist
प्रतीकात्मक तस्वीर 

मुख्य बातें

  • आतंकी संगठन जेईएम ने दी रोहतक रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी
  • संदेश में मुंबई, चेन्नई और बेंगलुरु में धमाकों की कही बात
  • 8 अक्टूबर को देश के अलग- अलग हिस्सों में मंदिरो को निशाना बनाने की धमकी

नई दिल्ली: रोहतक रेलवे पुलिस को कथित तौर पर पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (JeM) की ओर से लिखा गया धमकी भरा पत्र मिलने के कुछ दिनों बाद पुलिस ने पूरे हरियाणा में और आसपास के रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था और ज्यादा चाक चौबंद कर दिया है। पुलिस ने मंगलवार को कहा कि राज्य में रेलवे स्टेशनों से गुजरने वाली ट्रेनों में सघन तलाशी की जा रही है।

पुलिस ने कहा, 'रेलवे स्टेशनों और उसके आसपास उचित निगरानी सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों को नियुक्त किया गया है।' अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था, नवदीप सिंह विर्क ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि पुलिस ने एहतियात के तौर पर रेलवे स्टेशनों के बाहर खड़े वाहनों की भी जांच शुरू कर दी है।

उन्होंने आगे कहा, 'खतरे की आशंका को देखते हुए सुरक्षा को लेकर पुलिस अतिरिक्त कदम उठा रही है। राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) और रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) रेलवे स्टेशनों के परिसर के भीतर किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की तलाश के लिए संयुक्त अभियान चला रहे हैं।'

नवदीप सिंह विर्क ने आगे कहा कि जीआरपी और आरपीएफ रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों के बीच सुरक्षा की भावना पैदा करने के लिए एक संयुक्त अभियान चला रहे हैं। रोहतक रेलवे के अधीक्षक यशपाल मीणा को 14 सितंबर को धमकी भरा पत्र मिला था।

कराची से जैश आतंकवादी मसूद अहमद की ओर से भेजे गए कथित पत्र में आतंकवादी समूह ने रोहतक, मुंबई, चेन्नई और बेंगलुरु में 12 रेलवे स्टेशनों और 8 अक्टूबर को मंदिरों को बम धमाकों से उड़ाने की धमकी दी है। इस साल फरवरी में, JeM ने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम दिया था, जिसमें CRPF के 40 जवान मारे गए थे।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...