हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को कोरोना, 2 दिन बाद शुरू होना है विधानसभा सत्र

देश
एजेंसी
Updated Aug 24, 2020 | 21:35 IST

Manohar Lal Khattar: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए है। 2 दिन बाद विधानसभा का सत्र शुरू होना है। विधानसभा अध्यक्ष भी कोरोना पॉजिटिव हैं।

Manohar Lal Khattar
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर 

मुख्य बातें

  • हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर कोरोना वायरस से संक्रमित
  • हरियाणा विधानसभा का मानसून सत्र 2 दिन बाद शुरू होना है
  • विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता और भाजपा के 3 विधायक भी कोरोना वायरस से संक्रमित

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। खट्टर ने ट्वीट कर कहा, आज मेरी कोरोनावायरस जांच हुई। मेरी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने कहा, पिछले सप्ताह मेरे करीबी संपर्क में आए सभी सहकर्मियों और सहयोगियों से मैं फौरन सख्त क्वारंटीन में जाने का अपील करता हूं।

गौरतलब है कि राज्य विधानसभा का दो दिवसीय मानसून सत्र 26-27 अगस्त को होना है। इससे पहले, विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता कोरोनो वायरस पॉजिटिव निकले थे। तीन विधायक भी पहले ही कोरोना संक्रमित निकल चुके हैं और उनमें से दो का अभी भी इलाज चल रहा है।

खट्टर ने छह दिन पहले केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ एक बैठक में हिस्सा लिया था। शेखावत भी संक्रमित पाए गए थे। नई दिल्ली में सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर शेखावत के साथ बैठक के बाद खट्टर ने बृहस्पतिवार को कोविड-19 की जांच कराई थी लेकिन संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई थी। खट्टर ने एहतियात के तौर पर बृहस्पतिवार को तीन दिनों के लिए पृथक-वास में जाने का फैसला किया था। 

सत्र में शामिल होने के लिए देनी होगी नेगेटिव रिपोर्ट

गुप्ता के संक्रमित होने से 26 अगस्त से शुरू होने वाले विधानसभा के माननसून सत्र की अध्यक्षता विधानसभा उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा करेंगे। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष समेत सभी विधायकों, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और मंत्रियों के लिये कोविड-19 की जांच कराना अनिवार्य कर दिया गया है और जांच में संक्रमण नहीं पाए जाने पर ही सदस्य को सत्र में शामिल होने दिया जाएगा। सत्र शुरू होने से तीन दिन पहले तक का “कोविड-19 निगेटिव” प्रमाण पत्र मान्य होगा। इससे पुराना प्रमाण पत्र होने पर सत्र में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी। सत्र के दौरान विधानसभा परिसर में प्रवेश के लिए यह प्रमाण पत्र अधिकारियों समेत सभी के लिए अनिवार्य है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर