अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराना सरकार की सांस्कृतिक जिम्मेदारी है: आरएसएस

आरएसएस के सह-सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराना सरकार की सांस्कृतिक जिम्मेदारी है।

dattatreya hosabale
आरएसएस के सह-सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ।  |  तस्वीर साभार: AFP

मुख्य बातें

  • 'अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराना सरकार की सांस्कृतिक जिम्मेदारी'
  • 'यह निर्माण सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुरूप होना चाहिए'
  • राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सह-सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले का बयान

नई दिल्ली : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के  सह-सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने शुक्रवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराना सरकार की सांस्कृतिक जिम्मेदारी है और यह निर्माण सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुरूप होना चाहिए क्योंकि सरकार लोगों की नुमाइंदगी करती है। 'राम जन्म भूमि' पुस्तक के लोकार्पण के मौके पर आरएसएस के पदाधिकारी ने कहा, 'मंदिर निर्माण के कार्य का संबंध केवल कानूनी या प्रशासनिक कार्य से नहीं है। सरकार लोगों के द्वारा चुनी गई है इसिलए उसकी सांस्कृतिक जिम्मेदारी बनती है कि वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुरूप अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराए।' दत्तात्रेय का यह बयान ऐसे समय में आया है जब पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन एवं उसकी आधारशिला रखने वाले हैं।

'राम मंदिर भारत के समृद्ध संस्कृति जुड़ा हुआ मामला'
उन्होंने कहा, 'अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण केवल धार्मिक मामला नहीं है बल्कि यह भारत के समृद्ध संस्कृति जुड़ा हुआ मामला है। जो लोग धर्मनिरपेक्षता के बहाने राम मंदिर निर्माण का विरोध करते हैं वे भारतीय संस्कृति के बारे में कुछ नहीं जानते।'

पांच अगस्त को पीएम मोदी रखेंगे आधारशिला
श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के मुताबिक राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन एवं शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को करेंगे। इसके साथ ही अयोध्या में भव्य एवं दिव्य राम मंदिर के निर्माण का आगाज हो जाएगा।  बताया जा रहा है कि इस समारोह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत सहित संघ एवं विहिप के पदाधिकारी शामिल होंगे। इसके अलावा मंदिर अभियान से जुड़े लोगों को भी न्यास आमंत्रित करने वाला है।

ओवैसी ने पीएम के दौरे का विरोध किया
पांच अगस्त के पीएम के अयोध्या जाने का विरोध एएआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने किया है। ओवैसी ने कहा है कि पीएम को प्रधानमंत्री के हैसियत से अयोध्या नहीं जाना चाहिए बल्कि व्यक्तिगत रूप में वहां जाना चाहिए। ओवैसी ने कहा कि नरेंद्र मोदी यदि पीएम के रूप में अयोध्या जाते हैं तो इससे संविधान का उल्लंघन होगा क्योंकि सरकार का कोई धर्म नहीं होता। 

भव्य एवं दिव्य राम मंदिर की तैयारी जोरों पर
राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं। अयोध्या के मुख्य मार्गों को सजाया एवं संवारा जा रहा है। अयोध्या को 'त्रेता युग' का रूप देने की तैयारी चल रही है। राम नगरी के मकानों को पीले रंग में रंगा जा रहा है। इसके अलावा मुख्य मार्गों के दोनों तरफ भगवान राम के जीवन से जु़ड़ीं घटनाओं को दीवारों पर उकारा जा रहा है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर