'सुंदरकांड का पाठ कराने चले और कुछ सुंदर ना रहा'; गंभीर ने अमानतुल्लाह के ट्वीट पर AAP को घेर लिया

देश
लव रघुवंशी
Updated Mar 07, 2020 | 20:11 IST

बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को AAP विधायक अमानतुल्लाह खान के उस ट्वीट पर घेर लिया, जिसमें ताहिर हुसैन की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए गए हैं।

Gautam Gambhir
गौतम गंभीर के निशाने पर आम आदमी पार्टी 

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक अमानतुल्लाह खान ने ताहिर हुसैन की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'आज ताहिर हुसैन सिर्फ इस बात की सजा काट रहा है की वो एक मुस्लिम है। शायद आज हिंदुस्तान में सबसे बड़ा गुनाह मुस्लिम होना है। ये भी हो सकता है आने वाले वक्त में ये साबित कर दिया जाए कि दिल्ली की हिंसा ताहिर हुसैन ने कराई है।'

इस पर बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने AAP के साथ-साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी घेर लिया। गंभीर ने इस ट्वीट पर जवाब दिया, 'सुंदरकांड का पाठ कराने चले...और कुछ सुंदर ना रहा..पर सुनियोजित कांड जरूर हुआ! अरविंद केजरीवाल देश कि रक्षा करने वाले अंकित शर्मा पर 400 वार हुए जिसका आरोप ताहिर पर है! और अपनी जुबान से देश को बांटने और धर्म पर वार करने का काम आपके विधायक कर रहे हैं। सवाल 'आप' की नीयत पर है !'

दिल्ली हिंसा में नाम आने के बाद आप ने ताहिर हुसैन को पार्टी से निलंबित कर दिया। ताहिर के खिलाफ आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा की कथित रूप से हत्या करने के मामले में मामला दर्ज किया गया। हुसैन को 5 मार्च को गिरफ्तार किया और 6 मार्च को उसे सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। 

अंकित शर्मा उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित चांद बाग क्षेत्र में हुसैन के घर के समीप नाले में मृत मिले थे। अंकित के परिवार ने उनकी की हत्या के पीछे हुसैन का हाथ होने का आरोप लगाया।

क्राइम ब्रांच की SIT के सूत्रों के अनुसार, ताहिर हुसैन की स्वामित्व वाली लाइसेंसी पिस्तौल को जब्त कर लिया गया है और उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है, ताकि पता लगाया जा सके कि उससे फायरिंग की गई या नहीं।

ताहिर ने की थी आत्मसमर्पण की पेशकश
ताहिर ने अदालत में आत्मसमर्पण करने की याचिका दायर करते हुए कहा था कि वह मामले की जांच में सहयोग करना चाहता है और आत्मसमर्पण करने का इच्छुक है। ताहिर के पक्ष में उसके वकील ने दलील देते हुए कहा कि उनके मुवक्किल को जान से मारने की धमकियां मिल रही है और जानबूझकर उसे फंसाया जा रहा है। ताहिर ने कोर्ट से अपनी जान-माल की सुरक्षा की भी मांग की। लेकिन कोर्ट ने ताहिर की सभी मांगें खारिज कर दी।
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर