JNU Violence के विरोध में उतरे शिक्षक और छात्र, सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने वीसी के इस्तीफे की मांग की

जेएनयू में हिंसा के विरोध में शिक्षकों और छात्रों ने कैंपस के बाहर प्रदर्शन किया। सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि जेएनयू के वीसी को इस्तीफा दे देना चाहिये।

JNU Violence के विरोध में उतरे शिक्षक और छात्र, सीपीएम नेता सीताराम येचुरी
जेएनयू हिंसा के विरोध में प्रदर्शन 

नई दिल्ली। जेएनयू हिंसा मामले में सियासत भी जमकर हो रही है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रही है। अब तक इस दिल्ली पुलिस को इस हिंसा के संबंध में करीब 100 वीडियो मिले हैं जिसकी जांच की जा रही है। जेएनयू हिंसा के संबंध में वीसी एम जगदीश कुमार ने कहा कि जो कुछ हुआ वो दुखद है, अब सबको पिछली घटनाओं को भूलकर आगे बढ़ने की जरूरत है। लेकिन सीपीएम के कद्दावर नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि वीसी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। 
येचुरी ने कहा कि वो जेएनयू के छात्रों और शिक्षकों के मनोबल को बढ़ाने के लिए आए हैं। वो जेएनयू में हुई हिंसा का विरोध करते हैं। अगर वीसी को लगता है कि वो शिक्षकों और छात्रों की आवाज को दबा देंगे तो ऐसा नहीं होगा। उनकी मांह है कि वीसी को हटाया जाए और हिंसा के लिए जो जिम्मेदार हो उसके खिलाफ कार्रवाई हो और इसके साथ ही फीस बढ़ोतरी को वापस लिया जाए। 

जेएनयू कैंपस में नकाबपोशों की हिंसा के विरोध में ज्यादातर शिक्षक और छात्रों ने विश्वविद्यालय कैंपस के बाहर प्रदर्शन किया। शिक्षकों ने कहा कि जानबूझकर विश्वविद्यालय के माहौल को खराब किया जा रहा है। राजनीति के अखाड़े में कैंपस को तब्दील किया जा रहा है। जेएनयू प्रशासन को यह देखने की जरूरत है आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। 


जेएनयू के वीसी एम जगदीश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय को शांत कैंपस के लिए माना जाता है। हम हमेशा किसी भी विषय पर बहस के साथ उसका समाधान निकालने के लिए तैयार रहते हैं। हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। जेएनयू कैंपस में हिंसा की जो घटनाएं हुई हैं वो काफी दुर्भाग्यपूर्ण है।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर