तत्कालीन सीएम कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद पत्रकार था कोरोना वायरस पॉजिटिव, कई मंत्री भी वहां थे मौजूद

देश
Updated Mar 25, 2020 | 16:58 IST

Coronavirus positive journalist: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। सीएम रहते कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल पत्रकार कोरोना से संक्रमित था।  

Coronavirus positive journalist present in the press conference of CM Kamal Nath,
सीएम कमलनाथ की पीसी में था कोरोना पॉजिटिव पत्रकार  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 15 हो गई है
  • एक पत्रकार की बेटी भी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई
  • प्रदेश में सर्वाधिक पॉजिटिव केस जबलपुर में सामने आए हैं

भोपाल : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक पत्रकार बेटी कोरोना वायरस ( Covid-19) पॉजिटिव पाई गई है। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या अब 15 तक पहुंच गई है। पत्रकार ने पिछले हफ्ते कमलनाथ द्वारा बुलाए गए प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाग लिया था। पत्रकार की बेटी के संपर्क में आने वाले सभी लोग अब क्वारंटीन में चले गए हैं। कमलनाथ की बतौर मुख्यमंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस में उपस्थित एक पत्रकार कोरोना से संक्रमित था। उस पत्रकार की बेटी को कोरोना डिटेक्ट हुआ है। उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में कमलनाथ सरकार के सभी मंत्री उपस्थित थे। इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद कमलनाथ ने इस्तीफा दिया था। राज्यपाल से भी मिले थे।

मध्यप्रदेश में संक्रमितों की संख्या हुई 15
भोपाल में बुधवार (25 मार्च) दोपहर कोरोना वायरस से एक और व्यक्ति के संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ ही मध्यप्रदेश में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 15 हो गई है। भोपाल के चीफ मेडिकल ऑफिसर सुधीर डेहरिया ने बताया कि भोपाल में कोरोना वायरस का नया मरीज 26 वर्षीय महिला के पिता हैं, जो 18 मार्च को लंदन से भोपाल वापस लौटी थीं और शहर में कोरोना वायरस संक्रमण की पहली मरीज हैं। उन्होंने कहा कि महिला और उसके पिता के अलावा इनके परिवार के अन्य सदस्यों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही भोपाल में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या दो हो गई है और दोनो एक ही परिवार के हैं।

भोपाल में 2, जबलपुर में 6 और इंदौर में 5 पॉजिटिव
इससे पहले बुधवार को इंदौर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती दो महिलाओं समेत 5 मरीजों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई। इनमें से 4 इंदौर के रहने वाले हैं, जबकि एक उज्जैन की है। प्रदेश में वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है। इनमें से 6 लोग जबलपुर, 5 इंदौर, 2 भोपाल, और एक-एक शिवपुरी, उज्जैन एवं ग्वालियर के निवासी हैं। सभी की हालत स्थिर है।

इंदौर और उज्जैन में लगा कर्फ्यू
इंदौर के मेडिकल ऑफिस डॉ. प्रवीण जड़िया ने बुधवार को बताया कि शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती दो महिलाओं समेत 5 मरीजों (चार इंदौर के और एक उज्जैन के) में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें से किसी भी मरीज ने पिछले दिनों विदेश यात्रा नहीं की थी। यानी वे देश के भीतर ही इस घातक बीमारी की जद में आये हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आये मरीजों में शामिल 65 वर्षीय महिला पड़ोसी उज्जैन जिले की रहने वाली हैं, लेकिन उनका इलाज इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय में चल रहा है। जड़िया ने बताया कि कोरोना वायरस पॉजीटिव पाये गए चार अन्य मरीज इंदौर के ही अलग-अलग इलाकों में रहते हैं। इनमें 50 वर्षीय महिला, 48 वर्षीय पुरुष, 68 वर्षीय पुरुष और 65 वर्षीय पुरुष शामिल हैं। ये मरीज शहर के दो प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती हैं। इंदौर और उज्जैन में कोरोना संक्रमण के मरीज सामने आने के बाद जिला प्रशासन ने दोनों शहरों में कर्फ्यू लगा दिया है। 

पांचों मरीजों में से किसी ने नहीं की थी विदेश की यात्रा 
चीफ मेडिकल ऑफिस ने बताया कि इन पांचों मरीजों में से किसी ने भी पिछले दिनों विदेश यात्रा नहीं की थी। इनमें शामिल दो पुरुष मरीज आपस में मित्र हैं जो इसी महीने साथ में वैष्णोदेवी की तीर्थ यात्रा पर गये थे और हाल ही में लौटे हैं।

कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की पुष्टि वाले 7 जिलों में कर्फ्यू
अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की पुष्टि वाले 7 जिलों भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, शिवपुरी, उज्जैन और छतरपुर जिलों में कर्फ्यू लगाया गया है। हालांकि छतरपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई मरीज नहीं मिला है लेकिन ग्वालियर के कोरोना वायरस संक्रमित मरीज ने खजुराहो (छतरपुर) की यात्रा की थी। इसलिए छतरपुर जिले के राजनगर और खजुराहो में कर्फ्यू लगाया गया है।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...