ट्रेन यात्रा से हवाई यात्रा तक, जानिए कब और कहां फोन पर आरोग्य सेतु एप रखना अनिवार्य है

आरोग्य सेतु एप एक कोरोना वायरस ट्रैकर एप है जिससे संक्रमित लोगों का पता चलता है। इसके लॉन्च करने के पीछे का मकसद लोगों को संक्रमित लोगों के बारे में अवगत कराना और उनके संपर्क में आने के लिए बचाना था।   

aarogya setu app
आरोग्य सेतु एप  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस का कहर देश दुनिया में लगातार बढ़ता जा रहा है
  • सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा लोगों को आरोग्य सेतु भी डाउनलोग करना अनिवार्य बताया गया है
  • ट्रेन यात्रा से लेकर हवाई यात्रा तक में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड रखना अनिवार्य है

कोरोना वायरस ने अब तक भारत में 3000 से भी ज्यादा लोगों की जानें ले ली है इसके अलावा 1 लाख से भी अधिक लोगों को अब तक संक्रमित कर चुका है। भारत सहित दुनियाभर में इसका दहशत बढ़ता ही जा रहा है। इसके संक्रमण के खतरे से बचने के लिए लॉकडाउन की अवधि को लगातार बढ़ाया जा रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के अलावा लोगों को अपने मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु एप भी डाउनलोड करने को कहा गया है।

आरोग्य सेतु एप एक कोरोना वायरस ट्रैकर एप है जिससे संक्रमित लोगों का पता चलता है। इसके लॉन्च करने के पीछे का मकसद लोगों को संक्रमित लोगों के बारे में अवगत कराना और उनके संपर्क में आने के लिए बचाना था। ये एप ना सिर्फ आपको कोविड-19 से जुड़ी जानकारियों से अवगत कराता है बल्कि यह आपका स्टेटस भी एप डेटा को प्रदान करता है। इस प्रकार से पूरा सिस्टम काम करता है।

आरोग्य सेतु एप
भारत सरकार के द्वारा 2 अप्रैल को लॉन्च किया गया आरोग्य सेतु एप कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण को ट्रैक करता है। यह भारत का पहला वायरस च्रेसिंग एप है जिसे एंड्रायड फोन और आईफोन दोनों पर डाउनलोड किया जा सकता है। यह हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, कन्नड़, मराठी, पंजाबी, तमिल, मलयालम, तेलुगू, बंगाली और उड़िया सहित 11 भाषाओं में उपलब्ध है। एक बार फोन पर इन्सटॉल करने के बाद यह संक्रमण के खतरे को भांप कर आपको अलर्ट करता है ताकि आप इसके खतरे से बच सकें।

यह पास के डिवाइस को जिनमें एप डाउनलोड है उसे ट्रैक कर इस बारे में जानकारी देता है। यह एप ब्लूटूथ, लोकेशन, एल्गोरिद्म और आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस (एआई) पर काम करता है। बता दें कि लॉकडाउन 4.0 देश भर में लागू कर दिया गया है, कुछ राज्यों में जहां पर विशेष श्रमिक ट्रेनें चलाई जा रही हैं इसमें कुछ राहत दी गई है। एयरपोर्ट अथरिटी ने भी स्पष्ट किया है कि हवाई यात्रा अभी शुरू नहीं की जा सकती है। दिल्ली मेट्रो ने भी साफ तौर पर कहा है कि मेट्रो में यात्रा करनी है तो आपके फोन में आरोग्य सेतु एप होना जरूरी है।  

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय ने उन क्षेत्रों में इस एप को इंस्‍टॉल करना अनिवार्य कर दिया है, जहां कोरोना वायरस संक्रमण के अधिक मामले हैं। इसका इस्तेमाल संक्रमण के मामलों में संपर्क का पता लगाने और यूजर्स को चिकित्सीय सलाह देने में किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि अब तक लगभग 9.8 करोड़ स्मार्टफोन में यह एप डाउनलोड किया जा चुका है।

किन्हें आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य है

  • सभी सरकारी कर्मचारियों को अपने फोन पर अप्रैल महीने से ही आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य बताया गया है। हेल्थ, डिफेंस और पुलिस विभाग में काम करने वालों को संक्रमण के खतरे से बचने के लिए फोन पर इस ट्रैकर एप को रखने को कहा गया है।
  • वैसे लोग कोविड-19 कंटेनमेंट जोन में रह रहे हैं उन्हें भी कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए इसे डाउनलोड करने को कहा गया है।
  • डिलीवरी एग्जीक्यूटिव्स को भी आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने को कहा गया है।
  • एयरपोर्ट अथॉरिटी ने भी स्पष्ट किया है कि घरेलू उड़ान जैसे ही शुरू होते हैं यात्रियों को भी अपने अपने फोन पर आरोग्य सेतु एप रखना अनिवार्य है। इसके अलावा मास्क पहनना, ग्लव्स पहनना, सैनिटाइजर इस्तेमाल करना भी अनिवार्य है। हवाई यात्रा के दौरान आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना कानूनी रुप से अनिवार्य कर दिया गया है।
  • खेल से जुड़े अधिकारियों ने भी आगे होने वाले इवेंट्स के लिए इससे जुड़े सभी लोगों के फोन पर आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया है।
  • भारतीय रेलवे ने जितनी भी 15 विशेष यात्री ट्रेनें चलवाई हैं उनमें यात्रा करने वाले सभी यात्रियों के फोन पर आरोग्य सेतु एप डाउनलोड रखना अनिवार्य किया गया है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर