Winter Session of Parliament LIVE: नागरिकता संशोधन बिल को 9 दिसंबर को लोक सभा में पेश करेगी सरकार

देश
Updated Dec 05, 2019 | 14:46 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Onion price issue in parliament: कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद सरकार आगामी सोमवार यानि 9 दिसंबर को नागरिकता संशोधन बिल पेश करेगी।

प्याज की बढ़ती कीमतों पर संसद परिसर में कांग्रेस का धरना 

मुख्य बातें

  • संसद के दोनों सदनों में प्याज का मुद्दा छाया
  • सरकार पर विपक्षी दल हमलावर, महंगाई रोकने की नीति बताने को कहा
  • आम आदमी पार्टी का बयान सरकार की लापरवाही से गोदामों में प्याज सड़ा

नई दिल्ली। कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद सरकार आगामी सोमवार यानि 9 दिसंबर को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पेश करेगी। हालांकि बिल में किस तरह  के प्रावधानों का उल्लेख किया गया है इसकी जानकारी नहीं है। इन सबके बीच विपक्ष को इस बात से ऐतराज है कि मुस्लिम शरणार्थियों का जिक्र क्यों नहीं किया गया है। कैबिनेट से मंजूरी के पहले गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था कि पाकिस्तान ,बांग्लादेश और अफगानिस्तान में रहने वाले अल्पसंख्यकों जिनमें हिंदू , सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन और पारसी शामिल हैं उन्हें भारतीय नागरिकता हासिल होगी। 


प्याज की बढ़ती कीमतों पर संसद परिसर में कांग्रेस सांसदों ने बैनर और पोस्टर के जरिए धरना दे रहे हैं। खास बात ये है कि जमानत पर कल तिहाड़ जेल से बाहर आए पी चिदंबरम भी धरना में शामिल हुए। कांग्रेस सांसदों के पोस्टरों पर महंगाई की प्याज पर मार, चुप क्यूं है मोदी सरकार इसके साथ ही कैसा  है यह मोदी राज, महंगा राशन और महंगा प्याज।

कांग्रेस सांसदों का कहना है कि मोदी सरकार बड़ी बड़ी बातें करती है। आर्थिक मंदी के साथ साथ समाज का हर वर्ग परेशान है। लेकिन यह सरकार आंकड़ो की जाल में हर किसी को उलझाए हुए है। आज आम लोगों की क्रयशक्ति कमजोर हुई है जिसका असर देखा जा सकता है। पहले तो उद्योगपति इस सरकार की तारीफ में कसीदे पढ़ते थे। लेकिन अब उन्हें भी समझ में आ चुका है कि यह जुमलो वाली सरकार है।

कांग्रेस का यह भी कहना है कि जिस नोटबंदी का मोदी सरकार गुणगान करती थी अब उन्हें समझ में आने लगा है कि फैसला भयंकर भूल थी। यही हाल जीएसटी का है। न तो सरकार को राजस्व हासिल हो रहा है और न ही व्यापारियों को सहुलियत मिल रही है, सिर्फ ताली के लिए फैसले नहीं लिए जा सकते हैं। यह सरकार आर्थिक मुद्दे पर पूरी तरह से विफल है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर