अमित शाह से मुलाकात के बाद बोलीं ममता- NRC में छूटे लोगों को दोबारा मिले मौका

देश
Updated Sep 19, 2019 | 14:21 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को एनआरसी के मुद्दे को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

Mamata Meets Amit Shah
अमित शाह और ममता बनर्जी  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • शाह से मिलने के बाद बोलीं ममता- मैंने गृह मंत्री को एनआरसी पर दिया पत्र
  • ममता ने कहा एनआरसी में छूटे लोगों को मिलना चाहिए एक और मौका
  • पश्चिम बंगाल में एनआरसी को कोई जरूरत नहीं है- ममता बनर्जी

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को नॉर्थ ब्लॉक स्थित गृह मंत्रालय के मुख्यालय में गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। गृह मंत्री से मुलाकात करने के बाद मीडिया से बात करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, 'एनआरसी को लेकर लोग अभी भी डरे हुए हैं। मैंने अमित शाह को असम में एनआरसी पर पत्र दिया और कहा कि एनआरसी में छूटे लोगों को एक और मौका मिलना चाहिए।  पश्चिम बंगाल में एनआरसी की कोई जरूरत नहीं है और इसे लेकर कोई बात नहीं हुई।'

 

 

ममता बनर्जी ने कहा, 'हमारा स्टैंड पहले ही बता चुकी हूं कि हमारे यहां एनआरसी की कोई जरूरत नहीं है। बिहार में नीतीश कुमार भी कह चुके हैं कि यहां एनआरसी की कोई जरूरत नहीं है। मैंने उन्हें असम के एनआरसी में छूटे लोगों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि इसे देखेंगे। गृह मंत्री ने हर बात को ध्यान से सुना है और मुझे पूरा विश्वास है कि वो उस पर गौर करेंगे।'

ममता बनर्जी ने कहा, 'मैंने उन्हें (अमित शाह) को एक पत्र सौंपा, जिसमें कहा गया था कि एनआरसी से छूटे 19 लाख लोगों में से कई हिंदीभाषी, बंगाली भाषी और स्थानीय असमी हैं। कई वास्तविक मतदाताओं को छोड़ दिया गया है। इस पर गौर किया जाना चाहिए। मैंने एक आधिकारिक पत्र उन्हें सौंपा।' पश्चिम बंगाल के नाम बदलने के बारे में बात करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि इसे लेकर प्रधानमंत्री से बात हुई है। 

इससे पहले भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने बुधवार को कहा था कि उन्हें खुशी है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ‘सदबुद्धि’ आई और उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मुलाकात की। घोष ने कहा,  'लेकिन मेरे विचार में काफी देर हो गई है। सीबीआई से खुद को और अपनी पार्टी को बचाने के उनके प्रयास बेनतीजा रहेंगे।' 

 


 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर