राम मंदिर निर्माण पर BJP-शिवसेना आमने-सामने? संजय राउत बोले- क्रेडिट किसी एक पार्टी को नहीं जाता

देश
Updated Dec 17, 2019 | 13:27 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

अयोध्या विवाद पर फैसला आने के बाद अब विवादिस्थल पर भव्य राम मंदिर बनेगा। लेकिन इसकी क्रेडिट लेने के लिए शिवसेना भी आगे आई है।

Shiv Sena leader Sanjay Raut on Ram temple construction
Shiv Sena leader Sanjay Raut on Ram temple construction  |  तस्वीर साभार: ANI

नागपुर: अयोध्या रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले आने के बाद अब राम मंदिर निर्माण को लेकर क्रेडिट लेने की होड़ मची हुई है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को कहा कि चार महीने के भीतर अयोध्या में एक भव्य राम मंदिर बन जाएगा। इसके बाद मंगलवार को शिवसेना के सीनियर नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी ने अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखी थी और मंदिर निर्माण का क्रेडिट किसी एक पार्टी को नहीं जाता है। महाराष्ट्र विधानसभा भवन के बाहर बीजेपी अध्यक्ष के बयान पर एक सवाल का जवाब देते हुए राउत ने मीडिया से कहा कि अमित शाह ने यह सही कहा है कि राम मंदिर निश्चित रूप से आसमान को छूता हुआ दिखाई देगा। लेकिन, मंदिर की नींव रखने का काम शिवसेना ने किया था।

आगे पूछे जाने पर कि अगर राम मंदिर का क्रेडिट बीजेपी को जाता है। इस पर राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा कि नहीं, इसका श्रेय लाखों और करोड़ों कारसेवकों को जाता है, जिनमें विश्व हिंदु परिषद, साधु, संत, बीजेपी कार्यकर्ता शामिल हैं, यह क्रेडिट सभी को जाता है, सिर्फ एक पार्टी को नहीं।

गौर हो कि अमित शाह ने सोमवार को झारखंड चुनाव के लिए पाकुड़ में पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि मैं आपको बताना चाहता हूं कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है, अयोध्या में चार महीने के अंदर आसमान को छूता हुआ राम मंदिर बनेगा जिसकी दुनिया भर के भारतीय 100 सालों से भी ज्यादा समय से मांग कर रहे हैं।

चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए सोमवार को झारखंड के हर घर से ईंट मांगी। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए पिछले 500 वर्षों में लाखों हिंदुओं ने अपना जीवन समर्पित किया है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर महज कोई मंदिर ही नहीं होगा, बल्कि यह एक राष्ट्रीय मंदिर होगा जो भगवान राम की जन्मस्थली पर बनाया जाएगा। यह भारत की आत्मा होगी। यह मंदिर दुनिया में देश के लोकतंत्र और न्यायपालिका की मजबूती को प्रदर्शित करेगा।

इससे पहले सुबह में बीजेपी विधायकों ने राज्य विधानसभा में प्रवेश किया, जिसमें फ्लेक्सबोर्ड के साथ शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में पहले प्रकाशित एक रिपोर्ट थी, जिसमें बेमौसम बारिश से प्रभावित किसानों को 25,000 रुपए प्रति हेक्टेयर सहायता की मांग की गई थी।

इस बारे में एक सवाल पर राउत ने कहा कि वे अब 'सामाना' पढ़ने का इरादा रखते हैं, लेकिन जब सत्ता में थे, तब तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस बार-बार कहते थे कि वह मराठी प्रकाशन नहीं पढ़ते हैं। अगर सत्ता में रहते हुए 'सामाना' पढ़ा होता, तो शायद वे सत्ता बरकरार रख पाते।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर