Group D के लिए 5 लाख आवेदन पर बोले बिहार के मंत्री- '..तो इसमें सरकार क्या कर सकती है'

देश
Updated Nov 22, 2019 | 20:53 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

देश में बढ़ती बेरोजगारी का ताजा सबूत हाल ही में बिहार से सामने आया जहां ग्रुप डी की भर्ती के लिए करीब 5 लाख आवेदन आए हैं। इसी पर अब बिहार के एक मंत्री ने हैरान करने वाला और बेहद संवेदनहीन बयान दिया है।

bihar minister
बिहार मंत्री  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली : बिहार में हाल ही में ग्रुप डी पदों के लिए भर्तियां निकाली गईं जिसके लिए करीब 5 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया। ये आंकड़े साफ-साफ बताते हैं कि देश में बेरोजगारी किस चरम पर पहुंच गई है, लेकिन इसी बीच बिहार में नेताओं के बयान इस गंभीर मुद्दे पर उनकी संवेदनहीनता को उजागर करते हैं।

बिहार के एक मंत्री श्रवण कुमार ने राज्य में ग्रुप डी के लिए आए 5 लाख आवेदन पर अपना बयान दिया है। मंत्री ने इस पर कहा कि नियुक्ति पाने वाले लोग अपनी इच्छा से आवेदन देते हैं। ये नहीं कि उनको सरकार कहती है कि आप यहीं पर आवेदन दीजिए। तो इसमें सरकार क्या कर सकती है? जो मेधावी है उसका चयन होगा।  

 

 

आपको बता दें कि देश में बेरोजगारी की चरम इस हद तक है कि ग्रुप डी के लिए एमसीए, एमबीए और ग्रेजुएट चपरासी, माली और द्वारपाल जैसी पदों के लिए आवेदन कर रहे हैं।

इसी विषय पर चिंता जताते हुए कांग्रेस नेता प्रेम चंद मिश्रा ने बीते दिनों कहा था कि 186 ग्रुप-डी पदों के लिए 5 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं। सितंबर से इंटरव्यू चल रहे हैं। करीब 4,32,000 इंटरव्यू पहले ही लिए जा चुके हैं। कहा जा रहा है कि एक दिन में 1500-1600 इंटरव्यू आयोजित किए जाते हैं।  

कांग्रेस नेता मिश्रा ने ये भी कहा था कि एक इंटरव्यू 10 सेकंड तक भी नहीं चलता है जो इस भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार का संकेत देता है।

 

अगली खबर
Group D के लिए 5 लाख आवेदन पर बोले बिहार के मंत्री- '..तो इसमें सरकार क्या कर सकती है' Description: देश में बढ़ती बेरोजगारी का ताजा सबूत हाल ही में बिहार से सामने आया जहां ग्रुप डी की भर्ती के लिए करीब 5 लाख आवेदन आए हैं। इसी पर अब बिहार के एक मंत्री ने हैरान करने वाला और बेहद संवेदनहीन बयान दिया है।
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...