बिहार में मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, पटना में पेड़ गिरने से 10 पुलिसकर्मी घायल

देश
Updated Sep 18, 2019 | 14:21 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। वहीं, राजधानी पटना में एक भारीभरकम पेड़ गिरने के कारण 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

police personnel injured after tree fell on tent following heavy rainfall in Patna
पटना में बारिश के कारण पेड़ गिरने से 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • बिहार के कई इलाकों में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई है
  • पटना में पुलिस की एक इमारत व टेंट पर पेड़ गिर गया
  • यहां पेड़ गिरने से 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए

पटना : बिहार के कई इलाकों में पिछले 24 घंटों में मूसलाधार बारिश हुई है, जिससे जगह-जगह पानी भर गया है। राजधानी पटना के कई इलाकों में भी पानी भर गया है, जिससे लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। भारी बारिश और आकशीय बिजली गिरने से जुड़ी विभिन्‍न घटनाओं में राज्‍य में जहां 10 से अधिक लोगों की मौत की रिपोर्ट्स सामने आ रही है, वहीं राजधानी पटना में पुलिस विभाग की एक इमारत और टेंट पर पेड़ गिरने से 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

पटना में पुलिस विभाग की जिस इमारत पर पेड़ गिरा है, उसमें मैगजीन रखे जा रहे था। पास में ही पुलिसवालों का एक टेंट भी था, जहां कई पुलिसकर्मी रुके हुए थे। मंगलवार को भारी बारिश के कारण यहां एक विशाल पेड़ गिर गया, जिसकी चपेट में पुलिस की इमारत और टेंट भी आ गए। यहां पेड़ गिरने से 10 पुलिसकर्मी घायल हो गए, जिन्‍हें इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। इस घटना के बाद पूरे इलाके में अफरा-तफरी मच गई।

भारी बारिश से जुड़ी घटनाओं और आकाशीय बिजली गिरने के कारण पहले ही यहां कई लोगों की जान जा चुकी है। समाचार एजेंसी आईएएनएस के अनुसार, एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में राज्‍य के विभिन्‍न इलाकों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने की विभिन्‍न घटनाओं में 13 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें महिलाएं और बच्‍चे भी शामिल हैं। आकाशीय बिजली गिरने के कारण राज्‍य में 10 से अधिक लोग घायल हुए हैं।

बिहार में कैमूर, मोत‍िहारी, पूर्वी चंपारण, अरवल, जहानाबाद, गया सहित कई जिलों में आकाशीय बिजली की चपेट में मवेशी भी आए हैं। वहीं, भारी बारिश के कारण गंगा सहित कई नदियों का जलस्‍तर भी बढ़ गया है और तटवर्ती इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। प्रशासन पीड़‍ित परिवारों को मदद मुहैया कराने में जुटा है। प्रशासन ने खराब मौसम को देखते हुए लोगों को घरों से नहीं निकलने की हिदायत दी है। भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने के कारण राज्‍य में हताहतों की संख्‍या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...