बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा का बयान, Article 370 अब महज संख्या में तब्दील

देश
Updated Sep 16, 2019 | 19:05 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

कुरुक्षेत्र में बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने अनुच्छेद 370 की हिमायत करने वालों को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि इस अनुच्छेद से देशभक्त गुज्जर और बक्करवाल समाज को संवैधानिक अधिकार नहीं मिल सका।

 j p nadda
बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष हैं जे पी नड्डा 

मुख्य बातें

  • अनुच्छेद 370 से गुज्जरों और बक्करवालों को नहीं मिला उनका हक- जे पी नड्डा
  • 'अनुच्छेद 370 पर विपक्ष की तरफ से सिर्फ हो रही है राजनीति'
  • 'जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए बीजेपी कृतसंकल्प'

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटे हुए एक महीने से ज्यादा समय बीत चुका है। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में इस विषय पर आठ अर्जियों पर सुनवाई हुई। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर सरकार पाबंदियों में ढील दे सकती है। इस बीच नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला को पीएसए के तहत गिरफ्तार किया गया है। लेकिन जम्मू-कश्मीर की हालात पर विपक्षी दलों की तरफ से राजनीति जारी है। 

विपक्ष पर निशाना साधते हुए बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र में विपक्ष पर जमकर बरसे। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि ये आप लोगों के वोटों की ताकत थी कि सरकार अनुच्छेद 370 को हटाने में कामयाब हुई। इस तरह के फैसले पर पहुंचने से पहले न जानें कितने लोगों ने अपने प्राणों का न्योछावर किया। हमने संसद के उस सदन में भी संभव कर दिखाया जहां हमें बहुमत हासिल नहीं था। अब 370 सिर्फ संख्या है। 


जे पी नड्डा ने कहा कि अनुच्छेद 370 की वजह से देशभक्त गुज्जर और बक्करवाल समाज को फायदा नहीं मिला। ये वो लोग थे जिन्होंने सीमा की सुरक्षा की लेकिन आरक्षण के फायदे से वो वंचित रहे। परिसीमन के बाद जो अब शुरू भी हो चुकी है उसके जरिए विधानसभा की 9 सीटें इस समाज को और इसके साथ ही 1-2 लोकसभा सीटें एससी और एसटी समाज के खाते में जाएगी। 

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...