गुरुवार को आने वाली है कयामत, इस अफवाह के बाद चरार-ए-शरीफ में नमाज के लिए जुटे लोग

कश्मीर घाटी में बीती रात यह अफवाह फैल गई कि गुरुवार को के बड़ा उल्का पिंड टकराने वाला है, लिहाजा कयामत से पहले सभी लोग अजान के लिए इकट्ठा हों। चरार-ए-शरीफ में लोग जब जुटना शुरु हुए तो पुलिस से भिड़ंत हो गई।

गुरुवार को आने वाली है कयामत, इस अफवाह के बाद चरार-ए-शरीफ मे नमाज के लिए जुटे लोग
कयामत की अफवाह के बाद चरार-ए-शरीफ में नमाज के लिए जुटे लोग 

मुख्य बातें

  • कयामत की अफवाह के बाद दहशत में आए घाटी के लोग
  • किसी न्यूज पेपर में 26 मार्च को धरती के पास से उल्कापिंड गुजरने का था जिक्र
  • पाकिस्तान के किसी मुफ्ती ने नमाज के लिए इकट्ठा होने की अपील की थी

नई दिल्ली। बीती रात कश्मीर घाटी में पुलिस और आम लोगों के बीच जबरदस्त झड़प हो गई। दरअसल हुया यूं कि लोग बड़ी संख्या में चरार-ए-शरीफ में नमाज के लिए इकट्ठा हो गए। वजह यह थी कि लोगों को यह आशंका थी कि 26 मार्च को कयामत आने वाली है और उससे बचने का उपाय सिर्फ रात 10 बजे की अजान में है। इस तरह की अपील पाकिस्तान के एक मुफ्ती की तरफ से अपील की गई थी कि 26 तारीख को एक बड़ा उल्कापिंड धरती से टकराने वाला है।

कयामत की अफवाह
आईएएनएस के मुताबिक औरतें और बच्चे अलग अलग जगहों पर चिल्लाते हुए रो रहे थे कि आसामान में कयामत की तुरही बजी है। यही नहीं कुछ लोगों ने कहा कि उन्होंने आसमान में पैगंबर मोहम्मद के नाम  को लिखा हुआ देखा। जैसे ही इस तरह की अफवाह फैलनी शुरु हुई लोग अपने बिस्तरों से बाहर निकल पड़े और यह जानने की कोशिश करने लगे कि आखिर सच क्या है। दरअसल यह अफवाह इसलिए फैला कि किसी न्यूज पेपर में इस बात का जिक्र था कि 26 मार्च को एक बड़ा उल्कापिंड धरती के करीब से गुजरने वाला है, सबसे बड़ी बात यह है कि पेपर में बाकायदा नासा को कोट किया गया था।

पुलिसवालों से भिड़ गये लोग
इस अफवाह के बाद प्रशासन और पुलिस तंत्र में हड़कंप मच गया। दरअसल जम्मू-कश्मीर में भी कोरोना के 11 मामले सामने आए हैं। प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि अगर इस तरह से भीड़ इकट्ठा हो गई तो कंट्रोल करना मुश्किल हो जाएगा। बड़ी संख्या में पुलिस बल से जुड़े लोग चरार ए-शरीफ में दाखिल हुए लेकिन वहां मौजूद लोगों से झड़प हो गई, आखिर किसी तरह से पुलिस सबको समझाने बुझाने में कामयाब हुई।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...