'देश-विरोधी नारे लगाने वालों को तुरंत गोली मारने का हो कानून', कर्नाटक के मंत्री बोले पीएम मोदी से करूंगा अपील

कर्नाटक की रैली में एक युवती के 'पाकिस्‍तान जिंदाबाद' के नारे लगाने के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है। राज्‍य सरकार के एक मंत्री ने अब कहा है कि देश विरोधी नारा लगाने वालों को मौके पर ही गोली मार देनी चाहिए।

Anti nationals must be shoot at spot will appeal PM Narendra Modi to law says Karnataka Minister
पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाने वाले अमूल्‍या फिलहाल पुलिस हिरासत में है  |  तस्वीर साभार: AP

बेंगलुरु : कर्नाटक के बेंगलुरु में पिछले दिनों सीएए और एनआरसी के खिलाफ एक रैली के दौरान एक युवती के 'पाकिस्‍तान जिंदाबाद' के नारे लगाने को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। कर्नाटक सरकार ने जहां आशंका जताई है कि उसके तार आतंकियों से जुड़े हो सकते हैं, वहीं अब राज्‍य के एक मंत्री ने कहा है कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इसकी मांग करेंगे कि ऐसा कानून लाया जाए, जिसमें देश-विरोधी लोगों को देखते ही गोली मारने का प्रावधान हो। उन्‍होंने यह भी कहा कि ऐसे लोगों के प्रति किसी तरह की सहानुभूति नहीं दिखाई जानी चाहिए।

'पीएम मोदी को लिखूंगा पत्र'
कर्नाटक सरकार में मंत्री बीसी पाटिल ने पीएम मोदी से यह मांग करने की बात की है। उन्‍होंने रविवार को एक सवाल के जवाब कहा कि देश में ऐसा कानून होना चाहिए, जिसमें देश-विरोधी नारा लगाने वालों को देखते ही गोली मारने का प्रावधान हो। ऐसे लोगों पर किसी तरह की दया नहीं दिखाई जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा, 'ऐसे लोगों को तुरंत गोली मार देनी चाहिए। मैं प्रधानमंत्री से मीडिया के माध्‍यम से यह अपील करता हूं। साथ ही प्रधानमंत्री को इसके लिए पत्र भी लिखूंगा।'

नक्‍सलियों से संपर्क की आशंका
इससे पहले कर्नाटक के गृह मंत्री बसावराज बोम्‍मई ने कहा था कि अमूल्‍या जिस इलाके से आती हैं, वहां नक्‍सली गतिविधियां सक्रिय रही हैं। ऐसे में नक्‍सलियों से उनके किसी प्रकार के संबंध हैं या नहीं, इसकी भी जांच की जाएगी। मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने भी अमूल्‍या के खिलाफ कड़े कदम उठाने की बात कही, जिसके खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। कर्नाटक के मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने भी देश-विरोधी गतिविधियों में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए और उनके प्रति किसी तरह की दया नहीं दिखाई जानी चाहिए।

क्‍या है मामला?
यहां उल्‍लेखनीय है कि बीते सप्‍ताह गुरुवार (20 फरवरी) को कर्नाटक के बेंगलुरु में आयोजित एक रैली के दौरान उस वक्‍त हंगामा हो गया था, जब अमूल्‍या ने मंच पर पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे। इस रैली में अखिल भारतीय मजलिस ए इत्‍तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी भी मौजूद थे। वह अपना संबोधन समाप्‍त कर मंच से जा रहे थे, जब अमूल्‍या कार्यक्रम को संबोधित करने मंच पर पहुंची। इसी दौरान उसने हिन्‍दुस्‍तान और पाकिस्‍तान दोनों के जिंदाबाद लगाए, जिससे ओवैसी सहित वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए। बाद में उसका माइक छीन लिया गया और पुलिस उसे लेकर गई। उस पर राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है और फिलहाल वह न्‍यायिक हिरासत में है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर