Pregnancy Care Tips: ठंड के मौसम में प्रेग्नेंट महिलाओं को रखना चाहिए अपना खास ख्याल

Pregnancy Care Tips: सर्दियों में प्रेग्नेंट महिलाओं को फ्लू, संक्रमण, सर्दी-जुकाम जैसी परेशानी से बचाव के लिए विशेष ध्यान की जरूरत होती है। अगर आप चाहते हैं कि सर्दियों में प्रेग्नेंट महिलाओं को इस तरह की परेशानी से बचाव की जरूरत है। आइए जानते हैं सर्दियों में प्रेग्नेंट महिलाओं को कैसे रखना चाहिए अपना ध्यान?

Updated Jan 19, 2023 | 11:33 AM IST

Pregnancy Care Tips

सर्दियों में प्रेग्नेंट महिलाएं रखें अपना विशेष ख्याल

मुख्य बातें
  • सर्दियों में शरीर को रखें हाइड्रेट
  • प्रेग्नेंट महिलाओं को लिए फ्लू वैक्सीन है जरूरी
  • पैरों को गर्म रखने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन होता है बेहतर
Pregnancy Care Tips: सर्दियों का सीजन काफी सबका पसंदीदा होता है। यह सीजन जहां अपने साथ कई सारी खुशियां लाती हैं। वहीं, इस सीजन में कई तरह की बीमारियों का खतरा भी रहता है। खासतौर पर इस सीजन में फ्लू, सर्दी-जुकाम जैसे संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिलाओं को सर्दियों में इन बीमारियों से बचने की जरूरत होती है। क्योंकि प्रेग्नेंसी में आप हर तरह की दवाओं का सेवन नहीं कर सकते हैं। इसलिए सर्दी में प्रेग्नेंट महिलाओं का अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते हैं सर्दियों में प्रेग्नेंट महिलाओं को कैसे रखना चाहिए अपना ध्यान?
शरीर को रखें हाइड्रेट
सर्दियों में अधिकतर लोग पानी का सेवन कम करते हैं। वहीं, ठंड की वझ से इस सीजन में पेशाब ज्यादा आता है। ऐसे में शरीर में डिहाइड्रेशन की परेशानी हो सकती है। इस तरह की परेशानियों से बचने के लिए सर्दियों में आवश्यक मात्रा में पानी का सेवन करना जरूरी है। पूरे दिन में कम से कम 6 से 7 गिलास पानी पिएं। इसके साथ ही ताजे फल और सब्जियों का सेवन करें। यह आपके शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है।
पैरों को रखें गर्म
सर्दियों में ब्लड सर्कुलेशन पर काफी ज्यादा असर पड़ता है। इसकी वजह से स्किन के छोटे-छोटे ब्लड वेसेल्स में सूजन आ सकती है। कुछ लोगों को इसके कारण स्किन पर चकत्ते, सूजन, लालिमा जैसी परेशानी हो सकती है। इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए पैरों को अच्छी तरह से ढककर रखें। इसके साथ ही अपने पैरों को गुनगुने पानी से धोएं। पैरों को गर्म रखने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन अच्छे से होता है।
फ्लू वैक्‍सीन जरूर लगवाएं
प्रेग्‍नेंसी में महिलाओं को फ्लू शॉट लगवाने की जरूरत होती है। फ्लू शॉट लगाने से न सिर्फ मां को सुरक्षित रखा जा सकता है, बल्कि यह बच्चों के लिए भी बहुत ही जरूरी है। कई हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि फ्लू शॉट लगवाने से बच्चे को जन्म के 6 महीने तक सुरक्षित रखा जा सकता है।
स्किन पर लगाएं लोशन
प्रेग्नेंसी में स्किन काफी ज्यादा ड्राई होने लगती है। साथ ही कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी में काफी खुजली होती है। सर्दियों में इस तरह की परेशानी से बचने के लिए महिलाओं को अपनी स्किन पर लोशन लगाने की जरूरत होती है। लोशन लगाने से स्किन मॉइस्चराइज होता है। साथ ही स्किन पर होने वाली खुजली को शांत करने में मदद मिल सकती है।
(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।)
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | हेल्थ (health News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

IND vs AUS Test Series: उलटा पड़ सकता है पिच वाला दांव, अब कुछ ऐसा होने की है उम्मीद

IND vs AUS Test Series

Aaj Ki Taza Khabar, 5 फरवरी, 2023: बागेश्वर धाम के समर्थन में आज दिल्ली में धर्म संसद, जानें देश और दुनिया की ताजा खबरें

Aaj Ki Taza Khabar 5  2023

अंत में अमेरिका ने चीन के स्पाई बैलून को समंदर के ऊपर मार गिराया, देखें Video

               Video

Magh Purnima Vrat Katha: माघ पूर्णिमा की व्रत कथा, इस दिन भगवान विष्णु गंगाजल में करते हैं निवास

Magh Purnima Vrat Katha

मामी के साथ इश्क में ऐसा डूबा भांजा कि मामा को ही उतार दिया मौत के घाट, गोलियों से छलनी कर दिया सीना

Video: अडानी के मुद्दे पर सदन में चर्चा न होने के पीछे क्या है कारण? वित्त मंत्री बोलीं- चर्चा से कौन भाग रहा है

Video                 -

Video: बजट को छोड़ अडानी के शेयरों की ज्यादा चर्चा के पीछे कोई षड्यंत्र है? वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया ये जवाब

Video

SC में 5 नए जजों की नियुक्ति, पटना-राजस्थान-मणिपुर हाईकोर्ट को मिले कार्यवाहक चीफ जस्टिस

SC  5     --
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited