World Sleep Day 2020 : दिल की बीमारियों को दावत है कम नींद, याददाश्त भी होती है कमजोर

हेल्थ
Updated Mar 13, 2020 | 12:23 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

World sleep day 2020: नींद शरीर को स्वस्थ रखने की दवा है और जब सोने के बेहतरीन तरीके अपनाए जाते हैं तो ये थेरेपी और भी कारगर हो जाती है। जमीन पर सोना शरीर की कई समस्याओं को दूर करता है।

World Sleep Day
World Sleep Day  

मुख्य बातें

  • सोने से शरीर की मसल्स और स्किन के टिशू रिपेयर होते हैं
  • सोने से वेट कम करने वाले हार्मोंस सक्रिय होते हैं
  • जमीन पर सोना, गद्दे पर सोने से होता है बेहतर

Benefits of sleeping, sleep on floor : कभी आपने महसूस किया है कि जब नींद पूरी नहीं होती तो आप कैसा महसूस करते हैं। अनमना, थकान, चिड़चिड़ापन आदि जैसे सामान्य लक्षण होते हैं, लेकिन जब ये नींद की समस्या रोज की हो जाए तो ये समस्या बेहद गंभीर हो जाती है।

तनाव, याददाश्त में कमी, मोटापा, डायबिटीज, हाई बीपी, इनसोमेनिया आदि की दिक्कत होने लगती है। इसलिए सोना शरीर के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं होता। सोने के दौरान हमारा शरीर ही नहीं स्किन भी रिपेयरिंग का काम करती है।

दिमाग को रेस्ट मिलता है तो वह बेहतर प्रदर्शन करता है। बेहतर नींद के लिए सोने के तरीके भी बहुत मायने रखते । कंफर्टेबल सोने पर शरीर को ज्यादा फायदे होते हैं। तो चलिए वर्ल्ड स्लीप डे पर जानें कि नींद और जमीन पर सोने के क्या फायदे हैं।

नींद न लेने से याददाश्त होती है कमजोर

पर्याप्त नींद न लेने का सबसे बड़ा नुकसान याददाश्त पर पड़ता है। अगर आप पूरी नींद नहीं लेते हैं तो आपकी याददाश्त कमजोर और आप धीमे हो सकते हैं। अच्छी नींद मिलने से व्यक्ति ऑफिस में अच्छा परफॉर्म करता है।

मीडिया मुगल अराएना हफिंग्टन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्हें सफलता तभी हासिल हुई जब उन्होंने अत्यधिक काम करना छोड़ा और सही नींद लेनी शुरू की। अराएना का कहना है कि जब आप थके हुए होते हैं तो सही से परफॉर्म नहीं कर पाते।

दिल की बीमारियों को दावत है कम नींद
नींद की कमी दिल और किडनी की बीमारियों को भी बुलावा देती है। शोध में ये साबित हुआ है कि सोने से दिल और ब्लड वेसेल्स रिपेयर होते हैं। अगर काफी समय से व्यक्ति सही नींद नहीं ले रहा है तो दिल, किडनी की बीमारियां, ब्लड प्रेशर और स्ट्रोक जैसी समस्या हो सकती है। इसलिए जरूरी है कि आप रोजाना 7-8 घंटे की नींद जरूर लें।

ब्यूटी के लिए ले पर्याप्त नींद
आपने ब्यूटी स्लीप के बारे में तो काफी सुना होगा। कई लोगों को ब्यूटी स्लीप मिथक लगता है लेकिन ये वाकई सच है। सोने से इंसान की खूबसूरती में सचमुच निखार आता है। रात को अच्छी और पर्याप्त नींद लेने से त्वचा खिली-खिली रहती है।

जब आप सो रहे होते हैं तो शरीर को आराम मिलता है और सर्कुलेटरी सिस्टम शरीर में ब्लड का फ्लो बढ़ा देता है, जिससे त्वचा में ग्लो दिखती है।

कम सोने के जाने नुकसान, नहीं करेंगे कभी नींद से समझौता

समय से पहले हो जाएंगे बुढ़े

नींद न केवल आपके शरीर को बल्कि स्किन को भी बेहतर बनाती है। नींद की कमी या नींद से समझौता आपको समय से पहले बुढ़ा सकते हैं। सोते समय शरीर में सेल खुद की मरम्मत होते हैं औरन अपना पुनर्निर्माण करते हैं।

वेट बढ़ने का बनेगा कारण
नींद को टालना या कम सोना आपको मोटा बना सकता है। भरपूर नींद शरीर में हॉर्मोन बैलेंस में मदद करता है। नींद ghrelin और leptin हॉर्मोन को बढ़ाता है जिससे वेट कम होने में हेल्प मिलती है। यदि आप कम सोते हैं तो हार्मोन्ल दिक्कत होने से वेट बढ़ जाता है।

याददाश्त होगी कमजोर
पर्याप्त नींद न लेने से याददाश्त प्रभावित होती है। नींद कम होने से चिड़चिड़ापन होता है, मति भ्रम की स्थिति होती है और ऐसे में दिमाग बिलकुल अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाता है। ऐसे में याददाश्त भी प्रभावित होती है।

दिल की बीमारियों का खतरा

नींद की कमी दिल और किडनी की समस्या को भी बढ़ाता है। सोने के दौरान दिल और ब्लड वेसेल्स रिपेयर होते हैं। अगर काफी समय से व्यक्ति सही नींद नहीं ले रहा है तो दिल, किडनी की बीमारियां, ब्लड प्रेशर और स्ट्रोक जैसी समस्या हो सकती है। इसलिए जरूरी है कि आप रोजाना 7-8 घंटे की नींद जरूर लें।

जमीन पर सोने का फायदे

रीढ़ की हड्डी के लिए जरूरी : जमीन पर सोने से रीढ़ की हड्डी सीधी रहती है और कमर दर्द में भी आराम मिलता है।

सांस कि दिक्कत होती है कम :  यदि सांस की समस्या हो तो जमीन पर जब भी सोएं, बिना तकिए लगाए ही सोना चाहिए।

कूल्हों और कंधे के लिए फायदेमंद : कंधों और कूल्हों के दर्द की दिक्कत दूर करने के लिए आप जमीन पर सोएं।

पीठ दर्द में मिलता है आराम :  यदि आपकी पीठ में दर्द हो तब भी आप जमीन पर सोएं। ये पीठ दर्द का प्रभावी इलाज होता है।

तापमान होता है कम :  चटाई या दरी जमीन पर बिछा कर सोने से शरीर का तापमान कम होता है। जिन्हें गर्मी ज्यादा लगती हो वह ऐसा जरूर करें।

ब्लड सर्कुलेशन होगा बेहतर :  जमीन पर सोना ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ा देता है। जमीन पर सोने के दौरान मांसपेशियों को आराम मिलता है और इससे मस्तिष्क भी क्रियाशील होता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर