Makar Sankranti Health: मकर संक्रांति पर सूर्य की किरणें होती हैं अमृत समान, होता है रोगों का नाश

मकर संक्रांति (Makar Sankranti) पर सूर्य को जल देना और उनकी पूजा करना केवल धार्मिक लिहाज से ही नहीं, बल्कि सेहत (Health) के लिए भी बहुत फायदेमंद (Benefits) होता है।

Makar Sankranti Health
Makar Sankranti Health  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • मकर संक्रांति पर धूप में रहना सेहत के लिए अच्छा है
  • सूर्य के उत्तरायण होने से किरणें सेहत के लिए अच्छी होती हैं
  • तिल, गुड़ और खिचड़ी खाने से शरीर स्वस्थ होता है

मकर संक्रांति पर सूर्य पूजा का विशेष महत्व होता है। सूर्य के उत्तरायण होना हिंदू धर्म में बहुत महत्वपूर्ण मना गया है। 14 जनवरी से सूर्य उत्तरायण होंगे और अगले दिन मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। 

मकर संक्रांति पर स्नान करने के बाद सूर्य को अर्घ्य देने के बाद उसकी किरणों के समक्ष तिल-गुड़ और चावल छूने का नियम होता है। यह नियम धार्मिक लिहाज से ही नहीं सेहत के लिहाज से भी बहुत अच्छा माना गया है। इस दिन शरीर पर पड़ने वाली सूर्य कि किसी दवा से कम नहीं होती हैं। मकर संक्रांति के पारंपरिक खानपान भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसलिए धार्मिक और शारीरिक दोनों ही लिहाज से मंकर संक्राति विशेष फलदायी होती है। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Mr. Prabhuji (@adiprabhuji_._) on

जानें, कैसे लाभकारी हैं मकर संक्रांति पर सूर्य की किरणें

  1. पूर्व से दक्षिण की जब सूर्य बढ़ता है तो उससे निकलने वाली किरणें सेहत के लिए अच्छी नहीं होती हैं। वहीं सूर्य जब उत्तरायण होता है यानी पूर्व से उत्तर की ओर इसकी किरणें पड़ती हैं तो ये सेहत के लिए लाभदायक होता है। 
  2. स्नान के बाद सूर्य के समक्ष रहना शरीर को निरोग बनाता है। क्योंकि सूर्य के उत्तरायण होने से किरणें चमत्कारिक रूप से दवा बन जाती हैं, इसलिए शरीर निरोगी बनता है।
  3. सुबह के समय सूर्य कि किरणें जब शरीर में जमा कैल्शियम से टकराती हैं तो विटामिन डी एक्टिवेट हो जाता है और शरीर को मजबूती मिलती है और हड्डियां ही नहीं मस्तिष्क में भी गुड हार्मोन्स का संचार बढ़ता है। 
  4. सूर्य की किरणें सुबह के समय सौम्य होती हैं और ये शरीर के लिए दवा से कम नहीं होतीं। सर्दी-जुकाम, संक्रमण, डिप्रेशन या शरीर की कमजोरी को दूर करने में ये किरणें बहुत कारगर होती हैं। इसलिए इन दिनों सूर्य सेवन यानी धूप सेंकना बहुत लाभकारी माना जाता है। 
  5. मकर संक्रांति पर तिल, गुड़, दही और खिचड़ी खाने की पंरपरा होती है और ये सारी ही चीजें शरीर के इम्युन सिस्टम को मजबूत बनाने के साथ शरीर में कैल्शियम, आयरन, विटामिन आदि की कमी को भी दूर करते हैं। खिचड़ी हल्की होने के कारण सुपाच्य होती है। ठंड में गुड़ शरीर को गर्म रखता है वहीं तिल हड्डियों की मजबूती के साथ विटामिन की कमी को पूरा करता है। 

तो मकर संक्रांति पर पुण्य कमाने के साथ अच्छे सेहत का तोहफा भी आप पा सकते हैं। संक्रांति पर धूप सेके और तिल के लड्डू भी खाएं।


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर