भूलकर भी गोद पर रखकर लैपटॉप का न करें इस्तेमाल, हो सकते हैं निःसंतान

लैपटॉप के ज्यादा इस्तेमाल से आपके रिप्रोडक्टिव हेल्थ पर भी असर पड़ सकता है। इसे देर तक गोद में रखकर इस्तेमाल करने से इंफर्टिलिटी की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

Laptop
Laptop 

मुख्य बातें

  • लैपटॉप का गोद में रखकर इस्तेमाल करने से पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या बढ़ सकती है।
  • लैपटॉप से निकलने वाली हीट हमारी स्किन और टिशु को करती है डैमेज।
  • लैपटॉप का इस्तेमाल करते समय वाईफाई कनेक्शन का रखें खासा ध्यान।

नई दिल्ली. कोरोना महामारी के भयावह प्रकोप के कारण स्कूल के बच्चों से लेकर ऑफिस तक के कर्मचारी अब घर से ही लैपटॉप पर काम कर रहे हैं। ऑफिस जैसा वातावरण ना होने के कारण लोग घर में घंटो तक सोफे या कुर्सी पर बैठकर लैपटॉप को गोद में रखकर काम करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है, जिस चीज को आप आरामदायक समझ रहे हैं वह आपके सेहत के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। 

लैपटॉप के ज्यादा इस्तेमाल से आपके रिप्रोडक्टिव हेल्थ पर भी असर पड़ सकता है। इसे देर तक गोद में रखकर इस्तेमाल करने से इंफर्टिलिटी की समस्या भी बढ़ सकती है।

लैपटॉप से ज्यादा लैपटॉप से जुड़ा वाईफाई कनेक्शन आपके लिए घातक सिद्ध हो सकता है। जो आपको जाने अनजाने में कई गंभीर बीमारियों की चपेट में ले रहा है। ऐसे में लैपटॉप पर काम करते समय इन बातों का अवश्य ध्यान रखें और भूल कर भी ऐसी गलती ना करें।

पुरुषों के लिए हो सकता है घातक
एक रिपोर्ट के मुताबिक लैपटॉप की हीट महिलाओं की तुलना में पुरुषों के लिए अधिक खतरनाक है। इसका कारण शरीर की बनावट है। महिलाओं के शरीर में यूटरस शरीर के भीतर होता है जबकि पुरुषों में टेस्टिकल शरीर के बाहरी हिस्से में होता है। 

हीट रेडिएशन पुरुषों के शरीर के रिप्रोडक्टिव पार्ट से ज्यादा करीब रहती है। लैपटॉप की इस खतरनाक हीट से स्पर्म क्वालिटी गिर सकती है, जिससे फर्टिलिटी में दिक्कत आ सकती है। इसलिए पुरुषों को भूलकर भी गोद में रखकर लैपटॉप का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 

अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं
गोद में लैपटॉप रखकर काम करने से शरीर पर त्वचा संबंधी परेशानियां भी उत्पन्न हो जाती हैं, इससे शरीर के स्पाइन का आकार भी बदलने लगता है। सर्वाइकल की समस्या उत्पन्न होने का भी डर बना रहता है। 

लैपटॉप का इस्तेमाल करते समय वाईफाई का खासा ध्यान रखें। लैपटॉप से वाईफाई कनेक्ट होने पर निकलने लाला रेडिएशन लैपटॉप की तुलना में अधिक घातक होता है। इसलिए काम करने के तुरंत बाद वाईफाई बंद कर दें। साथ ही नेट का काम होने पर ही वाईफाई ऑन करें।

शील्ड का करें प्रयोग
लैपटॉप का इस्तेमाल करते समय शील्ड का प्रयोग अवश्य करें। इससे लैपटॉप से निकलने वाले खतरनाक हीट और रेडिएशन से आप बच सकते हैं। आप शील्ड ना होने पर लैपटॉप का कवर या किसी मोटे गत्ते को इसके नीचे लगाकर तभी इस्तेमाल करें

लैपटॉप पर काम करते समय लैपटॉप को किसी लकड़ी के टेबल या स्टूल पर रखें। इससे लैपटॉप से निकलने वाले हीट और रेडिएशन से बचा जा सकता है। तथा काम करते समय टेबल पर लैपटॉप रखकर इससे उचित दूरी बनाए रखें। 

कमरे में लाइट होना जरूरी
लैपटॉप से अचानक तेज आवाज आने पर, वाइब्रेट होने पर या तेज हीट निकलने पर लैपटॉप को थोड़ी देर के लिए तुरंत बंद कर दें। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो यह आपके लिए भयावह हो सकता है।

लैपटॉप का इस्तेमाल करते समय इस बात पर खासा ध्यान दें। आप जहां पर यानी जिस कमरे में काम कर रहे हैं वहां पर लाइट को जरूर ऑन करके रखें। ताकि लैपटॉप की रौशनी सीधी आंखों पर ना पड़े।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर