Walking ke Fayde: लंबे समय तक जीने की है चाहत तो रोजाना करें ये काम, होगा चमत्कारिक लाभ

Walking: रोज सुबह वॉकिंग करने से ना सिर्फ शारीरिक फायदे होते हैं बल्कि मानसिक फायदे भी मिलते हैं। इसे नियमित रुप से करने से शरीर से कई रोगों का भी नाश हो जाता है।

walking ke fayde
वॉकिंग के फायदे (Source: Pixabay) 

मुख्य बातें

  • रोज सुबह वॉक पर जाने से शारीरिक और मानसिक लाभ दोनों मिलते हैं
  • नियमित रुप से वॉक करने से शरीर से कई रोगों का भी नाश हो जाता है
  • वॉकिंग से जो फायदा शरीर को मिलता है वह शायद ही किसी और तरीके से मिलता है

फिट और हेल्दी रहने के लिए लोग एक्सरसाइज से लेकर योगा तक और पता नहीं क्या-क्या करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि सिंपल वॉकिंग से जो फायदा शरीर को मिलता है वह शायद ही किसी और तरीके से मिलता है। रोज सुबह मॉर्निंग वॉक के कई फायदे हैं। यह किसी भी आयु वर्ग के लोगों के लिए फायदेमंद होता है। इससे ना सिर्फ शारीरिक फायदे होते हैं बल्कि मानसिक फायदे भी मिलते हैं। इसे नियमित रुप से करने से शरीर से कई रोगों का भी नाश हो जाता है।

वॉकिंग के लिए ना आपको ज्यादा कुछ इन्वेस्ट करना पड़ता है ना ही आपको डेली रुटीन से ज्यादा समय निकालना पड़ता है। बस आपको एक वॉकिंग शूज पहन कर वॉक पर निकल जाना है। जानते हैं वॉकिंग के फायदे विस्तार से-
 

कैलोरी बर्न 
वॉकिंग से आपकी कैलोरी तेजी से बर्न होती है। कैलोरी बर्न होने से तेजी से आपका वजन भी कम होता है। अगर आप वेट लॉस करना चाहते हैं तो आपको नियमित तौर पर वॉकिंग करना चाहिए। आपकी वॉकिंग स्पीड, कितनी दूरी तक वॉक किया, किस तरह की जमीन पर वॉक किया और आपका वजन क्या। आपकी कैलोरी बर्न करना इन सभी चीजों पर निर्भर करता है।

दिल मजबूत बनाता है
सप्ताह में 5 दिन रोजाना कम से कम 30 मिनट तक वॉकिंग आपके लिए 19 फीसदी तक दिल की बीमारी के खतरे को कम करता है। अगर आप धीरे-धीरे वॉकिंग के समय को बढ़ाते हैं तो उसी के हिसाब से आपकी इस तरह की बीमारियों का खतरा भी कम होता जाता है।

ब्लड शुगर कम करता है
अगर रोजाना आप खाना खाने के बाद थोड़ी देर तक वॉक करते हैं तो यह आपके शरीर में ब्लड शुगर के लेवल को भी कम करता है। दिन में तीन बार अगर खाने के बाद 15-15 मिनट तक वॉक कर लेते हैं तो इस तरह से आपका एक दिन में 45 मिनट वॉक हो जाता है और यह आपके शरीर से ब्लड शुगर लेवल को कम करने में काफी मददगार होता है। 

जोड़ों के दर्द में राहत
अगर आपके जोड़ों में दर्द रहता है तो आपको वॉकिंग की आदत डालनी चाहिए। वॉकिंग करने से आपकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं और इससे ज्वाइंट का दर्द सही होता है। हर सप्ताह अगर 5 से 6 मील वॉक कर लेते हैं तो इससे गठिया जैसी बीमारी का खतरा भी कम होता है।

एनर्जी बूस्ट
एक अदद वॉक पर जाने से शरीर को उतनी एनर्जी मिलती है जितनी कि एक कप कॉफी पीने से भी नहीं मिलती है। वॉक करने से शरीर के सभी हिस्सों में ऑक्सीजन का बराबर प्रवाह होता है। यह शरीर में उन हॉर्मोन्स को बढ़ाता है जो एनर्जी लेवल को बढ़ाने में जिम्मेदार होते हैं।

आयु बढ़ाता है
अगर आप नियमित तौर पर वॉक करते हैं तो ये आपकी आयुसीमा बढ़ाता है। रिसर्च में भी ये सामने आया है कि अगर लंबे समय तक जीने की चाहत है तो रोजाना आपको वॉक करने की आदत डालनी चाहिए। इससे जल्दी मृत्यु का खतरा 20 पर्सेंट तक टल जाता है।

क्रिएटिव थिंकिंग
वॉकिंग करने से मूड भी सही रहता है और क्रिएटिव थिंकिंग की क्षमता बढ़ती है। रिसर्च में भी दावा किया गया है कि वॉकिंग करने के दौरान दिमाग में क्रिएटिव आइडियाज आते हैं। वॉकिंग के दौरान जितना हमारा शरीर एक्टिव रहता है उतना ही हमारा दिमाग भी सही दिशा में एक्टिव रहता है।  

इन बातों का रखें ध्यान
पैदल चलने वाले रास्ते या फिर फुटपाथ पर ही वॉक करें। जिन स्थानों पर अच्छी सूरज की रोशनी आती हो वहां पर वॉक करने की कोशिश करें।
अगर आप सुबह के समय वॉक कर रहे हैं तो रिफ्लेक्टिव वेस्ट पहनें ताकि लोग आपको देख सकें और सावधान हो सकें और एक्सीडेंट का खतरा कम हो। अच्छे शूज का चुनाव करें जिसमें आर्क सपोर्ट हो। ढीले ढाले और कंफर्टेबल कपड़े पहनें। वॉक पर जाने से पहले खूब सारा पानी पीएं और आने के बाद भी खूब सारा पानी पीएं। वॉक पर जाने से पहले सनस्क्रीन लगाना ना भूलें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर