Exercise: कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक्सरसाइज से आ सकता है जीवन-मौत का अंतर; हर सप्ताह करें 150 मिनट एक्टिविटी

हेल्थ
Updated Jun 19, 2021 | 20:43 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Importance of exercise: कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एक्सरसाइज काफी अहम भूमिका निभा सकता है। अमेरिका में हुए अध्ययन से इसका महत्व सामने आया है।

exercise
हर किसी के लिए जरूरी है व्यायाम करना 

मुख्य बातें

  • जनवरी-अक्टूबर 2020 के बीच कोविड रोगियों का इलाज करने वाले एक अमेरिकी अस्पताल ने एक अध्ययन किया है
  • उन्होंने यह जानने के लिए 48,000 रोगियों से लिए गए डेटा का विश्लेषण किया कि क्या व्यायाम गंभीर कोविड-19 से बचाने में मदद करता है

हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग समय-समय पर स्वास्थ्य संबंधी कई लेख और अध्ययन रिपोर्ट प्रकाशित करता है। हाल ही में इसने डॉ. मोनिक टेलो (एमडी) द्वारा लिखित एक आर्टिकल प्रकाशित किया, जो मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल में चिकित्सक हैं। लेख का शीर्षक था 'क्या व्यायाम गंभीर कोविड-19 से बचाव में मदद करता है?'। हम सभी अपने दैनिक कार्यक्रम में कुछ शारीरिक गतिविधियों के महत्व के बारे में जानते हैं। एक्सरसाइज हमारे शरीर को चुस्त रखता है, हमारी मांसपेशियां कोमल और मजबूत होती हैं, और शरीर के विभिन्न अंग और अंग प्रणालियां कई बीमारियों से लड़ने या धीमा करने के लिए फिट होती हैं। यह हमें लंबे समय तक जीने में भी मदद करता है।

अमेरिकी नियामक संस्‍था CDC के 'अमेरिकियों के लिए शारीरिक गतिविधि दिशानिर्देश' अनुशंसा करते हैं कि वयस्कों को कम से कम 150 मिनट की मध्यम-तीव्रता वाली एरोबिक फिजिकल एक्टिविटी या 75 मिनट की जोरदार-तीव्रता वाली शारीरिक गतिविधि हर सप्ताह करनी चाहिए।

अध्ययन से सामने आया महत्व

डॉ. टेलो ने ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के मूल शोध के निष्कर्षों का हवाला दिया है, जो सुझाव देता है कि नियमित एक्टिविटी से लोगों को मदद मिलती है। उनमें कोविड के कारण गंभीर रूप से बीमार होने का खतरा कम हो जाता है। इस अध्ययन का शीर्षक है, 'शारीरिक निष्क्रियता गंभीर कोविड-19 होने के ज्यादा जोखिम के साथ जुड़ी हुई है: 48,440 वयस्क रोगियों पर एक अध्ययन'। उन्होंने 'व्यायाम महत्वपूर्ण संकेत' का भी उल्लेख किया है। ये एक अमेरिकी अस्पताल में 48000 से ज्यादा कोरोना वायरस से संक्रमित वयस्क रोगियों पर किया गया एक अध्ययन है।

'एक्सरसाइज वाइटल साइन'

कैसर परमानेंटे कैलिफोर्निया में एक बड़ी हेल्थ केयर सिस्टम में हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स ने 18 से अधिक 48000 वयस्कों को नामांकित किया जो जनवरी और अक्टूबर 2020 के बीच कोविड-19 से संक्रमित थे। प्रतिभागियों को 2 नियमित प्रश्नों का उत्तर देना था:

औसतन, आप प्रति सप्ताह कितने दिन मध्यम से तेज व्यायाम करते हैं (जैसे तेज चलना)? (पैमाना = 0 से 7 दिन)।

इस स्तर पर आप औसतन कितने मिनट व्यायाम करते हैं? (पैमाना = 0, 10, 20, 30, 40, 50, 60, 90, 120, 150 या अधिक मिनट)।

कम शारीरिक गतिविधि के बाद आमतौर पर अधिक वजन, मोटापा, मधुमेह और हृदय रोग जैसी बीमारियां होती हैं।

संयोग से, ये स्थितियां गंभीर बीमारी और कोविड-19 से मृत्यु के अधिक जोखिम से भी जुड़ी हैं।

व्यायाम जीवन बचाता है

अध्ययन में पाया गया कि जो लोग लगातार निष्क्रिय थे, उनमें अस्पताल में भर्ती होने, आईसीयू में जाने और कोविड होने के बाद मृत्यु का जोखिम उन लोगों की तुलना में काफी अधिक था, जो प्रति सप्ताह कम से कम 150 मिनट तक सक्रिय थे। आपको यह देखने के लिए कोरोना से संक्रमित होने की आवश्यकता नहीं है कि नियमित व्यायाम आपको लंबा, स्वस्थ और अधिक पूर्ण जीवन जीने में कैसे मदद करता है। बेशक, अगर आपको कोरोना होता है, तो एक्टिविटी आपकी रक्षा करने में मदद करती है। टीका लगवाने से बहुत अधिक सुरक्षा मिलती है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर